WhatsApp की इस सफाई में कितनी है सच्चाई?

What is the truth in the new cleanliness of WhatsApp?
What is the truth in the new cleanliness of WhatsApp?

नई दिल्ली: WhatsApp में जो नये बदलाव हुऐ हैं,उसको लेकर वॉट्सऐप के उपभोक्ता लगातार तीखी आलोचना कर रहे है। इस बीच कंपनी ने नई पॉलिसी को लेकर लोगों के मन में जो सवाल उठ रहे थे, उसको दूर करने के लिए कई सवालों के जबाव दिए हैं। साथ ही साथ ही कंपनी ने अपने बयान में कहा है कि आपके सेंसिटिव डेटा फेसबुक के साथ हम साझा नहीं करते। इसके अलावा कंपनी ने ये भी दोहराया़ की नई अपडेट पॉलिसी किसी भी तरह से दोस्तों या परिवार के साथ आपके मैसेजेस की प्राइवेसी को प्रभावित नहीं करता है।

What is the truth in the new cleanliness of WhatsApp?
What is the truth in the new cleanliness of WhatsApp?

वॉट्सऐप ने क्या कहा-

वॉट्सऐप ने आगे कहा कि नई पॉलिसी में वॉट्सऐप बिजनेस को लेकर बदलाव शामिल होंगे। हालांकि ये ऑप्शनल है, साथ ही इससे और भी साफ तरीके से पता चलता है कि हम डेटा कैसे कलेक्ट या इस्तेमाल करते हैं। वॉट्सऐप ने ये सारी बातें एक डिटेल्ड ब्लॉग में कही है। जिसमें निजी जानकारी सहीत क़ॉल लाग्स और ग्रुप जैसे कई डेटा को लेकर जवाब दिए गए हैं। साथ ही ये भी कहा है कि वाट्सऐप के डेटा फेसबुक के साथ शेयर नहीं होते।

What is the truth in the new cleanliness of WhatsApp?
What is the truth in the new cleanliness of WhatsApp?

हम मैसेज और कॉलिंग की जानकारी नही रखते-

मैसेज एंड कॉल को लेकर वॉट्सऐप ने सफाईं दी कि कंपनी ना आपके मैसेज पढ़ सकती है, ना आपके कॉल्स सुन सकती है और ना फेसबुक या कोई और कंपनी ये चीजें कर सकता है। इसके साथ ही कंपनी ने कहा कि वॉट्सऐप एंड-टू-एंड एनक्रिप्टेड है और ये हमेशा ऐसा ही रहेगा।

वहीं वॉट्सऐप ने कहा कि हम मैसेज और कॉलिंग की जानकारी भी नहीं रखते हैं। यानी लोग जिन्हें भी कॉल या मैसेज करते हैं इसका डेटा वॉट्सऐप नहीं रखता है। इसी तरह लोकेशन के बारे में भी कंपनी ने सफाई दी की आपका लोकेशन ना हम देख सकते हैं ना ही कोई और तीसरा देख सकता है। कंपनी ने आगे कहा कि जब आप वॉट्सऐप से किसी को अपना लोकेशन भेजते हैं, तो ये एंड-टू-एंड एनक्रिप्टेड होता है। ऐसे में केवल वही शख्स देख सकता है, जिसके साथ आपने लोकेशन साझा किया है।

कॉन्टैक्ट लिस्ट को नही करते शेयर-

वॉट्सऐप ने कहा है कि हम आपके कॉन्टैक्ट्स फेसबुक तथा किसी और के साथ शेयर नहीं करते। इसके बारे में थोड़ा और विस्तार से बताते हुए कंपनी ने लिखा है कि हम आपके एड्रेस बुक से केवल फोन नंबर्स को ऐक्सेस करते हैं। जिससे मैसेजिंग को तेज किया जा सके। साथ ही हम आपके कॉन्टैक्ट लिस्ट को फेसबुक के दूसरे ऐप्स के साथ भी शेयर नहीं करते।

Leave a comment

Your email address will not be published.