पश्चिम बंगाल में थम नहीं रही है हिंसा, अब तृणमूल नेता की हुई हत्या

violance in bengal
violance in bengal

नई दिल्लीः बंगाल में विधानसभा चुनाव से पहले राजनीतिक हिंसा बढ़ती ही जा रही है. शनिवार देर शाम उत्तर 24 परगना जिले के बैरकपुर में तृणमूल कांग्रेस के एक नेता की घर में घुसकर गोली मारकर हत्या कर दी गई। मृतक का नाम गुमानी खान है और वह प्रमोटिंग के व्यवसाय से जुड़े होने के साथ श्रमिक ठेकेदार भी थे।

दोनों तरफ से जमकर चली गोलियां-

दूसरी ओर, हावड़ा में तृणमूल व भाजपा के बीच राजनीतिक वर्चस्व की लड़ाई हिंसक हो गई। यहां के बाली विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत लिलुआ में दोनों दलों के कार्यकर्ताओं के बीच जमकर झड़प हुई। दोनों तरफ से जमकर बमबाजी और गोलियों की आवाज से पूरा इलाका थर्रा उठा एवं घंटों रणक्षेत्र बना रहा। पूरे दिनभर दहशत के मद्देनजर भारी संख्या में पुलिस बल को उतारना पड़ा। इस संघर्ष में गोली लगने से एक भाजपा नेता प्रमोद दुबे बुरी तरह जख्मी हो गए जबकि कई अन्य घायल हैं। दुबे को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनकी हालत गंभीर है।

violance in bengal
violance in bengal

छह लोगों को किया गिरफ्तार-

वहीं, इस घटना से लिलुआ डॉन बॉस्को स्कूल और रंगोली मॉल इलाके में अभी भी सन्नाटा पसरा है। पुलिस ने घटना के सिलसिले में छह लोगों को गिरफ्तार किया है। भाजपा का आरोप है कि मंडल अध्यक्ष पर हमले के खिलाफ शनिवार को भाजपा कार्यकर्ता जीटी रोड पर प्रतिवाद जता रहे थे तभी तृणमूल कांग्रेस समर्थकों ने उन पर हमला कर दिया। हालांकि तृणमूल ने आरोपों को खारिज कर दिया है।

घर में घुसकर की हत्या-

इधर, बैरकपुर नगरपालिका के टीटागढ़ में तृणमूल नेता व प्रमोटिंग व्यवसायी की जो हत्या हुई है उसे हथियारबंद हमलावरों ने अंजाम दिया। पुलिस सूत्रों के अनुसार, बैरकपुर नगरपालिका के वार्ड 18 अंतर्गत अली हैदर रोड के ग्वालपाड़ा निवासी मृतक गुमानी खान देर शाम अपने घर में थे, तभी बाइक से कुछ अज्ञात लोग आए और उनके घर में घुसकर गोलियों से छलनी कर फरार हो गए. लहूलुहान हालत में गुमानी को अस्पताल पहुंचाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

Leave a comment

Your email address will not be published.