योगी राज में सरे आम हत्या, इलाके में दहशत..

up amethi murder case
up amethi murder case

नई दिल्ली : उत्तर प्रदेश में अब क्राइम बढ़ता जा रहा है, उत्तर प्रदेश सरकार अपराधियों पर किसी भी प्रकार का लगाम लगा पाने में बिल्कुल बिफल दिखाई पड़ रही है अपराधी बेखौफ होकर अपराधों को अंजाम दे रहे हैं। उनके लिए बूढ़ा बच्चा बुजुर्ग और महिलाएं कोई भी मायने नहीं रखता अब लोगों को बच्चों से भी डर लगने लगा है क्योंकि जिस तरह से हत्याओं का दौर चला है वह अब रुकने का नाम नहीं ले रहा है ऐसा ही एक मामला अमेठी जिले के संग्रामपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम सभा ठेंगहा के कोलवा ग्राम में देखने को मिला जहां पर कल शाम 4:00 बजे से गायब 12 वर्षीय किशोर की लाश आज सुबह गांव के बगल मालती नदी के किनारे जंगल में देखने को मिली। देखने से लग रहा था कि चंदन को पहले मारा पीटा गया है उसके बाद उसका गला दबाकर हत्या की गई है।

up amethi murder case
up amethi murder case

ग्रामीणों ने दी पुलिस को सूचना-

10 नवंबर की शाम 4:00 बजे के लगभग ओम प्रकाश गुप्ता का 14 वर्षीय पुत्र चंदन अचानक घर से गायब हो गया परिजन लगातार रात भर आस-पास के गांव और बाजार में बच्चे की खोजबीन करते रहे लेकिन बच्चे का कहीं कोई अता पता नहीं चला सुबह गांव का ही एक गूंगा व्यक्ति शौच के लिए जंगल में गया तभी उसने देखा कि वहीं पर चंदन की लाश पड़ी हुई थी, उसने आकर लोगों को बताया और मौके पर पहुंचे लोगों ने जब यह देखा कि यह ओम प्रकाश गुप्ता का पुत्र चंदन की लाश है ग्रामीणों ने डायल 112 पुलिस को दी मौके पर पहुंची पुलिस ने तत्काल बच्चे की लाश को कब्जे में लेकर मौके से चली गई घरवाले देख भी नहीं पाए जिसको लेकर घर वालों में खासा रोष देखने को मिला पूरे गांव के लोग जबरदस्त आक्रोश दिखाई पड़े सभी का गुस्सा सातवें आसमान पर था मौके पर थानाध्यक्ष राजीव सिंह तथा पुलिस क्षेत्राधिकारी अर्पित कपूर भारी पुलिस बल के साथ पहुंचे और ग्रामीणों को समझा-बुझाकर शांत कराया तथा तहरीर लेकर मुकदमा पंजीकृत किया।

इन लोगों पर हुई FIR-

किशोर के हत्याकांड की खबर सुनते ही पूरे गांव के लोग इकट्ठा हो गए और ग्रामीणों में खासा आक्रोश दिखाई पड़ा तभी मौके पर संग्रामपुर थानाध्यक्ष राजीव सिंह वह पुलिस क्षेत्राधिकारी अर्पित कपूर भारी पुलिस बल के साथ गांव में पहुंचे लोगों को काफी समझाने बुझाने तथा कार्यवाही का आश्वासन देते हुए पीड़ित की ओर से तहरीर प्राप्त की जिसमें पीड़ित ने 4 लोगों को नामजद करते हुए लिखा था कि मेरे पुत्र चंदन की शिवशंकर, रविशंकर और शिवम पुत्र हीरालाल तथा शनि पुत्र राजेंद्र गुप्ता ने पुरानी रंजिश के तहत मेरे बेटे की हत्या कर दी है । मृतक के पिता ओमप्रकाश की ओर से दी गई तहरीर पर मुकदमा पंजीकृत कर नामजद अभियुक्तों की धरपकड़ के लिए खोजबीन शुरू कर दी गई उधर मृतक चंदन की लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। ग्रामीणों का कहना है कि मुझे पुलिस पर भरोसा नहीं है हम लोग सीबीआई जांच चाहते हैं जिससे इस घटना का सही अनावरण हो जो दोषी है वह जेल जाए।

Leave a comment

Your email address will not be published.