तेजस्‍वी यादव- माफी नहीं मांगी तो विपक्ष पांच साल तक विधानसभा में नहीं होगा शामिल

the opposition will not be included in the Assembly for five years

नई दिल्ली: बिहार सशस्त्र पुलिस बल विधेयक 2021 के विरोध में बिहार विधानसभा में मंगलवार को हुए जबरदस्‍त हंगामे के बाद बुधवार को सदन की कार्यवाही विपक्ष के बहिष्‍कार के बीच शुरू हो चुकी है। इस बीच बड़ी खबर यह है कि विपक्षी विधायकों ने सदन के बाहर अपना समानान्‍तर सत्र शुरू कर दिया है। उन्‍होंने विधानसभा में अपने उपाध्‍यक्ष पद के उम्‍मीदवार भूदेव चौधरी को अध्‍यक्ष चुना है। साथ ही मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को पद से बर्खास्‍त कर दिया है।

the opposition will not be included in the Assembly for five years

विपक्ष अभी तक मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार की माफी की मांग पर अड़ा है

विपक्ष अभी तक मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार की माफी की मांग पर अड़ा है। नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव ने कहा है कि अगर वे माफी नहीं मांगते हैं तो संपूर्ण विपक्ष पूरे पांच साल विधानसभा की कार्यवाही में शामिल नहीं होगा।
वहीं विधानसभा में एआइएमआइएम विधायक अख्तरूल इमाम ने कहा कि मंगलवार को विधानसभा में हुई हुई घटना से बिहार शर्मसार है। हमारे घरों में बच्चों के पास क्या मैसेज गया होगा? इसका जवाब देते हुए मंत्री विजय चौधरी ने कहा कि सत्ता पक्ष का संयम भी सभी ने देखा है।

मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को विपक्ष ने दिखाई चूड़ी

बता दें कि विधान परिषद में दूसरी पाली में तो हाथापाई की नौबत आई ही, पहली पाली की कार्यवाही के दौरान भी हंगामा हुआ। आरजेडी के कई एमएलसी चूड़ी लेकर सदन में पहुंचे थे। भारी हंगामे के बीच सत्ता पक्ष के सदस्य विधान परिषद में आसन के सामने आ गए। बिहार सशस्त्र पुलिस बल विधेयक समेत आधा दर्जन विधेयक पास हो गए। इसके बाद सदन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया। एमएलसी सुबोध कुमार ने मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को चूड़ी दिखाई। उन्‍होंने मुख्‍यमंत्री को चूड़ी पहनने को कहा। इसी बात पर सत्ता पक्ष के सदस्य आसन के सामने आए और विरोध जताया।

Interesting Facts About Holi Festival | Holi Festival Story In Hindi | Prahlad Story In Hindi

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *