विरोध करने का अधिकार कभी भी और कहीं भी नहीं हो सकता ,शाहीन बाग :सुप्रीम कोर्ट

विरोध करने का अधिकार

नई दिल्लीः नागरिकता संशोधन एक्ट के खिलाफ शाहीन बाग में प्रदर्शन करने वाली महिलाओं ने सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका में ही एक और अर्जी लगाई थी. महिलाओं ने मांग की थी कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा आंदोलन को लेकर अक्टूबर, 2020 में जो आदेश दिया गया, उसपर फिर से सुनवाई की जाए. इस दौरान सुप्रीम… Continue reading विरोध करने का अधिकार कभी भी और कहीं भी नहीं हो सकता ,शाहीन बाग :सुप्रीम कोर्ट