Pilot vs Gehlot: गहलोत और पायलेट की खींचतानी पर शेखावत ने कसा तंज कहा ‘देना चाहिए स्पष्टीकरण’

SACHIN- GEHLOT
SACHIN- GEHLOT

जोधपुर केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने राजस्थान कांग्रेस(Pilot vs Gehlot) में चल रही उठापटक और खींचतान को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट पर तंज कसा। साथ ही राजस्थान सरकार के द्वारा की जा रही विधायकों और एमएलए की फोन टैपिंग मामला में जो हो रहा है उसको लेकर भी सवाल खड़े किए ।

Pilot vs Gehlot
Gajendra Singh Shekhawat

शेखावत ने की टिप्पणी 

शेखावत ने कहा कि सचिन पायलट को लेकर मुख्यमंत्री गहलोत और उनके सिपहसलारों ने जो टिप्पणी की है, वह जगजाहिर है। आज उनको लेकर जिस तरह की टिप्पणी कर रहे हैं, वह भी सबको मालूम है। सचिन पायलट जब नाराज होकर चले गए थे तो उस समय उनके बारे में किस तरह का अमर्यादित भाषा का प्रयोग किया गया। उनको गद्दार, भगौड़ा, धोखेबाज, नकारा, नाकाबिल, निकम्मा तक कहा गया। वहीं फिर एक बार गलबहियां करते हुए दिखाई दिए और अब जब दूरियां वापस बढ़ने लगी हैं। अबकी बार उनको क्या उपनाम और क्या उपाधियां दी जाएंगी, इसकी तैयारी लगता है, सचिन पायलट ने भी कर ली होगी।

gehlot with sachin
Sachin Pilot & Ashok Gehlot

केंद्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत ने कहा कि पिछले वर्ष जब फोन टैपिंग का मामला सामने आया था, तब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने विधानसभा में और मीडिया के सामने कहा था कि राजस्थान में यह परंपरा नहीं है, लेकिन बाद में विधानसभा में उन्हीं के मंत्री शांति धारीवाल ने कहा कि हमने लीगल तरीके से टेलीफोन टैप किए हैं।

gehlot
CM Ashok Gehlot

शेखावत ने कहा कि मेरी जानकारी में आया है कि कांग्रेस पार्टी के ही कुछ विधायकों ने मुख्यमंत्री से इस बात की शिकायत की है कि उनके टेलीफोन टैप किए जा रहे हैं। यह वैध है या अवैध यह मै साबित नहीं कर सकता , मुझे लगता है कि राज्य सरकार और कांग्रेस की मुखिया को इस बात का स्पष्टीकरण देना चाहिए।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *