नोएडा के संघ पदाधिकारी पर जानलेवा हमला, जा रहे थे राम मंदिर धन संग्रह के लिए

Attack on RSS Worker
Attack on RSS Worker

नई दिल्लीः राम मंदिर निर्माण के लिए क्षेत्र में निकले कार्यकर्ताओं पर आये दिन कोई न कोई मुसीबत या हमले की घटना हो रही है, धन संग्रह करने जा रहे विश्व हिदू परिषद (विहिप) के नेता के भाई व राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) पदाधिकारी से मारपीट का मामला सामने आया है। संघ पदाधिकारी से मारपीट व कार्रवाई नहीं होने से नाराज भारतीय जनता पार्टी (भाजपा), आरएसएस व विहिप कार्यकर्ताओं ने करीब चार घंटे तक सेक्टर-20 कोतवाली का घेराव किया। एडीसीपी नोएडा रणविजय सिंह को शिकायत देकर आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। उधर, पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर तीन लोगों को हिरासत में लिया है।

विभाग सह-कार्यवाह हैं-

विनोद कौशिक राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) में विभाग सह-कार्यवाह हैं। वहीं छोटे भाई विपिन का सेक्टर में प्रिंटिग प्रेस का काम है। शुक्रवार शाम करीब साढ़े छह बजे विनोद कौशिक विपिन की कंपनी में राम मंदिर निर्माण के लिए धन संग्रह करने व कार्यकर्ताओं संग बैठक करने के लिए जा रहे थे। विपिन स्विफ्ट कार, जबकि विनोद बाइक से थे। बैंक आफ इंडिया की शाखा के पास पहुंचने पर एक ई-रिक्शा चालक ने विपिन की कार में टक्कर मार दी। इस बात पर दोनों भाइयों का ई-रिक्शा चालक से विवाद हो गया। आरोप है कि इस दौरान दोपहिया वाहन सवार दो युवक भी वहां पहुंचे और विनोद की बाइक में जबरन टक्कर मार दी। दोनों भाइयों ने जब उनका विरोध किया तो उन्होंने घटनास्थल के पास रहने वाले समुदाय विशेष के 14-15 लोगों को बुला लिया और उनसे मारपीट करने लगे।

यह भी पढ़ें- जो हिन्दू है वो देशभक्त होगा ही- मोहन भागवत

पैसे भी छीन लिए गए-

विरोध करने पर आरोपितों ने धारदार हथियार से सिर पर हमला कर दिया, लेकिन विनोद के सिर पर हेलमेट होने से वह बाल-बाल बच गए। हमले में हेलमेट पूरी तरह से टूट गया। घटना के दौरान विपिन के हाथ और विनोद के कंधे में चोट आई है। विनोद कौशिक से आरोपित राम मंदिर निर्माण के लिए हुए धन संग्रह के 65 हजार 600 रुपये छीन ले गए। इसके बाद दोनों पीड़ित थाने पहुंचे और मामले की शिकायत की, लेकिन पुलिस ने जांच के बाद कार्रवाई की बात कही। उधर, संघ पदाधिकारी से मारपीट की सूचना पर भाजपा जिलाध्यक्ष मनोज गुप्ता समेत सैकड़ों कार्यकर्ता व विहिप नेता कोतवाली पहुंच गए।

यह भी देखें- Mathura के RSS कार्यालय केशव भवन पर पथराव, स्वयंसेवक घायल 

समुदाय विशेष के लोगों का हमला- 

आरोप है कि समुदाय विशेष के लोगों ने जानबूझकर संघ नेता को निशाना बनाया है, क्योंकि वह राम मंदिर के लिए धन संग्रह करने के लिए सेक्टर-9 में आते रहते हैं। उन्होंने आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर नारेबाजी की। चौकी इंचार्ज के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई मांग की है। कार्यकर्ताओं ने कोतवाली के सामने सड़क जाम का भी प्रयास किया, लेकिन पुलिस ने उन्हें ऐसा करने से रोक लिया। वहीं भीड़ शामिल कुछ लोगों ने एक युवक को आरोपित समझकर पीट दिया। हालांकि मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने स्थिति पर काबू पा लिया।

Leave a comment

Your email address will not be published.