Ease of Living Index : भारत के ये शहर रहने के लिए सबसे बेहतर, जानिए क्या आपका शहर भी है शामिल

rankings-for-ease-of-living-index-2020-and-municipal-performance-index-2020
rankings-for-ease-of-living-index-2020-and-municipal-performance-index-2020

नई दिल्ली : देश में रहने के लिहाज से बेंगलुरु, पुणे, अहमदाबाद बेस्ट शहर हैं। यह जानकारी ईज ऑफ लिविंग इंडेक्स (EoLI) 2020 की फाइनल रैंकिंग्स से सामने आई है। इस रैंकिंग को आवास व शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने घोषित किया। उन्होंने म्यूनिसिपल परफॉरमेंस इंडेक्स (MPI) 2020 की भी घोषणा की। EoLI 2020 के तहत रैंकिंग्स दो कैटेगरी में घोषित हुई हैं। पहली 10 लाख से ज्यादा आबादी वाले शहर और दूसरी 10 लाख से कम आबादी वाले शहर। 2020 में हुए असेसमेंट में 111 शहर शामिल रहे। 10 लाख से ज्यादा आबादी वाले शहरों में बेंगलुरु रहने के लिए सबसे बेस्ट साबित हुआ। इसके बाद पुणे, अहमदाबाद, चेन्नई, सूरत, नवी मुंबई, कोयम्बटूर, वडोदरा, इंदौर और ग्रेटर मुंबई रहे।

rankings-for-ease-of-living-index-2020-and-municipal-performance-index-2020
rankings-for-ease-of-living-index-2020-and-municipal-performance-index-2020

जानिए रहने के लिए बेस्ट शहर-

10 लाख से कम आबादी वाले शहरों में शिमला ईज ऑफ लिविंग में सबसे बेस्ट रहा। इसके बाद भुवनेश्वर, सिलवासा, ककिनादा, सलेम, वेल्लोर, गांधीनगर, गुरुग्राम, Davangere और तिरुचिरापल्ली रहे।

म्यूनिसिपैलिटीज को बांटा गया 2 भागों में

MPI 2020 के तहत म्यूनिसिपैलिटीज को भी दो कैटेगरी 10 लाख से कम आबादी और 10 लाख से ज्यादा आबादी में बांटा गया। 10 लाख से ज्यादा आबादी वाली कैटेगरी में इंदौर बेस्ट म्यूनिसिपैलिटी बनकर उभरा। इसके बाद सूरत और भोपाल रहे। 10 लाख से कम आबादी वाली कैटेगरी में नई दिल्ली म्यूनिसिपल काउंसिल बेस्ट रहा। इसके बाद तिरुपति और गांधीनगर रहे। MPI ने 111 म्यूनिसिपैलिटीज की सेक्टोरल परफॉरमेंस को 5 वर्टिकल्स में परखा है। इन वर्टिकल्स में 20 सेक्टर और 100 इंडीकेटर शामिल हैं। 5 वर्टिकल सर्विसेज, फाइनेंस, पॉलिसी, टेक्नोलॉजी और गवर्नेंस हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.