PM मोदी की अध्यक्षता में बजट से पहले 30 जनवरी को सर्वदलीय बैठक की घोषणा

PM मोदी
PM मोदी

नई दिल्ली : दिल्ली में सियासी गरमागरमी के बीच में संसद के बजट सत्र को सुचारू से संचालन के लिए सरकार ने 30 जनवरी को सर्वदलीय बैठक बुलाई है। बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सर्वदलीय बैठक की अध्यक्षता करेंगे और उन्होने के द्वारा आने वालै बजट सत्र के कामकाज के एजेंडे को अंतिम रूप दिया जाएगा। वहीं बजट सत्र के पहले चरण के 12 कार्य दिवसों से लेकर राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव और आम बजट के साथ पहली तिमाही के लेखानुदान से लेकर आने वाले कुछ अहम विधायी कामकाज सरकार की जरूरत का लेखा जोखा बनाने जा रहै हैं। जिस से  सदन की बैठकों को हंगामे के बिना चलाया जा सके। इसके मद्देनजर ही प्रधानमंत्री विपक्षी दलों के साथ कामकाज को लेकर सहमति बनाने का प्रयास भी करेंगे।

PM मोदी
PM मोदी

सुशांत सिंह राजपूत के नाम पर दिल्ली में होगी सड़क, मिल गई मंजूरी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सर्वदलीय बैठक वर्चुअल करेगेे

प्रधानमंत्री कोविड की चुनौतियों को देखते हुए सर्वदलीय बैठक वर्चुअल करेगै और इसके लिए दोनों सदनों में सभी दलों के नेताओं को न्योता भेज दिया गया है। हालांकि सर्वदलीय बैठक बजट सत्र की शुरुआत के एक दिन बाद बुलाई गई है। 29 जनवरी से राष्ट्रपति के दोनों सदनों की संयुक्त बैठक के संबोधन से सत्र की शुरुआत होगी और एक फरवरी को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आम बजट पेश करेंगी। साथ ही विपक्ष उपरोक्त मुद्दों के अलावा संसद का शीत सत्र नहीं बुलाए जाने को लेकर भी सरकार पर  दबाव बनाने और सरकार की  घेरेबंदी करने की तैयारी कर रहा है।

PM मोदी
PM मोदी

‘सबसे बड़ा अखाडा’ कोरोना काल में योगी सरकार का नंबर-1 काम || Live News

अर्थव्यवस्था के मुद्दो का हल तलाशने की प्रयत्न 

अर्थव्यवस्था की कमजोरी और महंगाई जैसे प्रमुख मुद्दो का जवाब की तैयारी करी जा रही है और पेट्रोल-डीजल की कीमतों में रिकार्ड बढ़ोतरी पर भी विपक्ष हमलावर रहेगा। जिस का हल तलाशने की प्रयत्न जा रही है। वही सदन चलाने के लिए सत्ता पक्ष और विपक्ष दोनों के बीच एक न्यूनतम सहमति बनाई जा सके है। साथ ही पहला चरण 15 फरवरी को समाप्त होगा और दूसरा चरण 8 मार्च से 8 अप्रैल तकआयोजित होगा। इस दौरान दो शिफ्ट संसद की कार्यवाही आयोजित होगी। सुबह में राज्यसभा  और शाम को लोकसभा में कार्यवाही का आयोजन होगा। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने मंगलवार को महामारी के बीच बजट सत्र आयोजित करने के लिए शीर्ष सरकारी अधिकारियों की एक उच्च-स्तरीय बैठक की अध्यक्षता की। संसद सदस्यों से बजट सत्र से पहले कोरोना टेस्ट कराने का अनुरोध किया गया है।

Leave a comment

Your email address will not be published.