पाक में मँहगाई की मार से लोगों का हाल बेहाल, अदरक हज़ार तो चीनी सौ के पार

pakistan Inflation 2020
pakistan Inflation 2020

नई दिल्ली : पाकिस्तान के मौजूदा प्रधानमंत्री इमरान खान नया पाकिस्तान बनाने का नारा देकर सत्ता में आए थे. उनके सत्ता में आने के बाद से ही इस पड़ोसी देश की अर्थव्यवस्था इतनी चरमरा चुकी है कि अब वहां एक अंडा 30 रुपये का मिलने लगा है. इतना ही नहीं 1000 रुपये किलो अदरक और 60 रुपये किलो गेहूं पाकिस्तान के डूबती अर्थव्यवस्था के प्रतीक बन गए हैं और महंगाई हर दिन नया रिकॉर्ड बना रही है.

pakistan Inflation 2020
pakistan Inflation 2020

पाकिस्तान में लोग एक वक्त के खाने के लिए परेशान-

रोजमर्रा की जरूरतों के हर सामान की कीमत पाकिस्तान में आसमान छू रही है. पाकिस्तान में अदरक 1000 रुपये किलो तो चीनी 104 रुपये प्रति किलो बिक रही है घरेलू गैस संकट से जूझ रहे इमरान खान के नए पाकिस्तान में लोगों को दो वक्त का खाना भी नसीब नहीं हो रहा है. वहां हालात इतने बुरे हो चुके हैं कि अगर आप थोक में दर्जन के भाव से अंडे खरीदते हैं तो आपको 240 रुपये देने होंगे और अगर आप सिर्फ एक अंडा खरीदेंगे तो 30 रुपये देने होंगे पाकिस्तान के ज्यादातर राज्यों में चिकन 300 रुपये किलो बिक रहा है. ऐसा नहीं है कि महंगाई की ये मार सिर्फ पोलेट्री उत्पादों पर है.

pakistan Inflation 2020
pakistan Inflation 2020

ठंड के मौसम में बढ़ी महंगाई-

पाकिस्तान की करीब 25 फीसदी जनता गरीबी रेखा से नीचे जीवन गुजारती है. ठंड के मौसम में जैसे ही अंडों और अदरक की खपत बढ़ी इनकी कीमतों ने आसमान छू लिया. पाकिस्तान में गेहूं भी 60 रुपये किलो बिक रहा है जिसके बाद आटे की कीमतों में भी आग लगी हुई है.

घरेलू गैस संकट भी ले चुका है विकराल रूप-

पाकिस्तान इन दिनों भीषण खाद्यान की कमी से जूझ रहा है. दूसरी तरफ घरेलू गैस संकट भी वहां विकराल रूप ले रहा है. देश में गैस की स्पलाई करने वाली कंपनी सुई नॉर्दन प्रतिदिन 500 मिलियन स्टैंडर्ड क्यूबिक फीट गैस की कमी से जूझ रही है. अगर जल्द ही इमरान सरकार ने गैस खरीदने का फैसला नहीं किया तो पाकिस्तान में लोगों के घर चूल्हे जलने भी बंद हो जाएंगे. सरकार की हालत ये हो गई है कि आटे और चीनी की कीमतों को नियंत्रित करने के लिए प्रधानमंत्री इमरान खान को लगातार कैबिनेट की मीटिंग बुलानी पड़ रही है.

Leave a comment

Your email address will not be published.