188 देशों में पाकिस्तान की PIA एयरलाइंस पर लग सकती है रोक

pakistan airlines banned
pakistan airlines banned

नई दिल्ली: ‘द एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ जो की पाकिस्तानी अखबार है उसने इस आशय की रिपोर्ट दर्शाते हुए कहा है कि लाइसेंस घोटाले के कारण ब्रिटेन और यूरोपीय संघ के अलावा कुछ मुस्लिम देश पहले ही पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (पीआईए) की उड़ानों को प्रतिबंधित कर चुके हैं।
आईसीएओ ने अपने 179वें सत्र की 12वीं बैठक में अपने सदस्य देशों को अहम सुरक्षा चिंताओं से लिए एक मैकेनिज्म को मंजूरी दी थी। इसके बाद ही उसने पीसीएए को गंभीर चेतावनी दी थी। रिपोर्ट के मुताबिक अपने पत्र में आईसीएओ ने कहा है कि पायलट लाइसेंसिंग और अन्य मामलों में वैश्विक मानक पूरा करने में नाकाम रहने के चलते पाक एयरलाइनों की उड़ानें 188 देशों में रोकी जा सकती हैं।

pakistan airlines banned
pakistan airlines banned

पाकिस्तान की एयरलाइनों को दुनिया के 188 देशों में जल्द ही प्रतिबंध लगाया जा सकता है। संयुक्त राष्ट्र के अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन (आईसीएओ) द्वारा जरूरी पायलट लाइसेंसिंग और अन्य मुद्दों पर वैश्विक मानकों को पूरा करने में नाकाम रहने के कारण पाकिस्तान पर यह मार पड़ना तय माना जा रहा है। आईसीएओ दिशा निर्देशों के मुताबिक यदि पाक उड़ानों पर 188 देशों में प्रतिबंध लगा तो देश का उड़ान उद्योग बुरी तरह से चौपट हो जाएगा।

लाइसेंस सहित अन्य मुद्दों पर पूरे नहीं हुए वैश्विक मानक-

कुछ माह पूर्व यह बात सामने आई थी कि पाकिस्तान के 262 पायलटों ने फर्जी कागजातों के जरिए लाइसेंस प्राप्त किया था, जिनमें से 146 पायलट सिर्फ पीआईए के हैं। जबकि आईसीएओ ने जून से इस मुद्दे को उठाया लेकिन पाक ने इसे नजरअंदाज किया। हाल ही के महीनों में अल्पसंख्यक समूह के सदस्य के रूप में चौथी हत्या के बतौर पाकिस्तान के उत्तर पश्चिमी शहर पेशावर के बाहरी इलाके में बंदूकधारियों ने 82 वर्षीय अहमदी शख्स की गोली मारकर हत्या कर दी।

समुदाय के प्रवक्ता सलीमुद्दीन ने कहा कि हमलावरों ने महमूब खान को उस वक्त निशाना बनाया जब वे बस टर्मिनल पर खड़े थे। पिछले हफ्ते पाक के पंजाब प्रांत में इमरान सरकार का विरोध कर रहे किसानों को मुल्तान रोड पर प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने गिरफ्तार किया था। इनमें से 15 किसान लापता हैं। पाकिस्तान किसान इत्तेहाद की एक शाखा के अध्यक्ष जुल्फिकार अवान ने बताया कि प्रदर्शन के वक्त कई किसान लाठियों से पीटने और आंसू गैस छोड़ने के दौरान घायल हो गए थे। उन्होंने कहा कि किसान अब आगे की लड़ाई जारी रखेंगे।

 

Leave a comment

Your email address will not be published.