MP में कोरोना की स्थिति हुई भयाभव, डॉक्टर ने कहा- सिलिंडर साथ लाएं वरना न आएं

oxygen-shortage-in-madhya-pradesh-news-covid-cases-rising-corona-deaths
oxygen-shortage-in-madhya-pradesh-news-covid-cases-rising-corona-deaths

नई दिल्ली : मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर कहर बन टूट पड़ी है। कोरोना संक्रमण के लगातार बढ़ते मामलों से स्वास्थ्य व्यवस्था चरमरा गई है। राज्य में रेमडेसिविर दवा और ऑक्सीजन की भारी किल्लत हो गई है। ऑक्सीजन की कमी के चलते प्रदेश की राजधानी भोपाल के 100 से ज्यादा अस्पतालों में भर्ती मरीजों की सांसें सांसत में पड़ गई हैं।

oxygen-shortage-in-madhya-pradesh-news-covid-cases-rising-corona-deaths
oxygen-shortage-in-madhya-pradesh-news-covid-cases-rising-corona-deaths

ऑक्सीजन की आई समस्या

मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर कहर बन टूट पड़ी है। कोरोना संक्रमण के लगातार बढ़ते मामलों से स्वास्थ्य व्यवस्था चरमरा गई है। राज्य में रेमडेसिविर दवा और ऑक्सीजन की भारी किल्लत हो गई है। ऑक्सीजन की कमी के चलते प्रदेश की राजधानी भोपाल के 100 से ज्यादा अस्पतालों में भर्ती मरीजों की सांसें सांसत में पड़ गई हैं। सोमवार रात से इन अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी चल रही है।

Corona Case: लॉकडाउन के डर से स्टेशनों पर बढ़ रही है भीड़, रेलवे ने चेताया

अस्पतालों ने मरीजों को भगवान भरोसे छोड़ दिया है,उनके परिजनों को जवाब दिया गया है कि या तो अपना ऑक्सीजन सिलेंडर लाओ या मरीज को कहीं और ले जाओ। इसके बाद से अपनों की जान बचाने के लिए मरीजों के परिजन यहां वहां भटक रहे हैं।

अस्पताल में हुई मौत

भोपाल में सोमवार रात से चल रही ऑक्सीजन की किल्लत से अस्पताल संचालक, मरीजों के परिजन और जिला प्रशासन के अफसर हैरान-परेशान हैं। ज्यादातर अस्पतालों ने नए मरीजों को भर्ती करना बंद कर दिया है। वहीं पहले से भर्ती मरीजों के परिजनों से कह दिया गया कि या तो अपना ऑक्सीजन सिलेंडर लाओ या मरीज को कहीं और ले जाओ। इसके बाद से कई परिजन अपने मरीजों को एंबुलेंंस से लेकर इधर-उधर भटकते रहे। बाद में उन्हें हमीदिया, एलबीएस, पीपुल्स अस्पताल में भर्ती कराया। ऑक्सीजन की कमी के कारण एविसेना अस्पताल से सोमवार को एक मरीज की छुट्टी कर दूसरे अस्पताल में भर्ती कराया गया था, उसकी मंगलवार को एलबीएस अस्पताल में मौत हो गई।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *