Novavax : स्‍टडी में खुलासा लगभग 90% प्रभावी है वैक्‍सीन, देशवासियों को जल्द मिलेगी

Novavax Covid-19
Novavax Covid-19

नई दिल्ली:  नोवावैक्स (Novavax) वैक्सिन निर्माता ने सोमवार को कहा कि वैक्‍सीन (Novavax Vaccine),  COVID-19 के खिलाफ अत्यधिक प्रभावी और वेरिएंट्स के विरूद्ध भी यह कई प्रकार से सुरक्षित है. यह तथ्‍य अमेरिका (America) और मैक्सिको (Mexico) में हुए एक नए और बड़े अध्‍ययन से सामने आया है। अमेरिका और मैक्सिको में हुई एक लेट-स्‍टेज स्‍टडी (study) में कई बातों की जानकारी मिली है। वैक्सीन निर्माता ने कहा कि वैक्‍सीन, कुल मिलाकर लगभग 90% प्रभावी रहा और प्रारंभिक आंकड़ों से पता चलता है कि यह सुरक्षित है। अमेरिका में COVID-19 की मांग में तेज़ रूप से गिरावट आई है, इसके अलावा दुनिया भर में और अधिक टीकों की आवश्यकता महत्वपूर्ण बनी हुई है।

Novavax Vaccine
Novavax Vaccine

Novavax निर्माता नें कहा

नोवावैक्‍स का कहना है यह वैक्‍सीन संग्रह करने और लाने लेजाने में आसान है। नोवावैक्‍सीन से उम्‍मीद है कि वह विकासशील देशों में वैक्‍सीन को भेजने में अहम भूमिका निभाएगा। हालाँकि, वह मदद अभी भी महीनों दूर है। कंपनी का कहना है कि वह सितंबर के अंत तक यू.एस., यूरोप और अन्य जगहों पर शॉट्स के लिए अनुमति लेने की योजना बना रही है और तब एक महीने में कम से कम दस करोड़ (100 मिलियन) खुराक का उत्पादन करने में सक्षम भी हो जाएगी। नोवावैक्स के मुख्य कार्यकारी स्टेनली एर्क ने बताया कि हमारी कई पहली खुराकें नीचें और मध्यम आय वाले देशों में जाएंगी, और यही लक्ष्य रखा था।

Novavax
Novavax

“अवर वर्ल्ड इन डेटा” (Our World In Data) के अनुसार, जब अमेरिका की आधी से अधिक आबादी को कम से कम एक COVID-19 वैक्सीन की खुराक मिल गई थी, तब विकासशील देशों में 1 प्रतिशत से भी कम लोगों को एक वैक्‍सीन मिल सकता थी। नोवावैक्स के अध्ययन में अमेरिका और मैक्सिको में 18 वर्ष और उससे अधिक उम्र के लगभग 30,000 लोग शामिल थे. इनमें से करीब दो-तिहाई को तीन सप्ताह के अंतराल में टीके की दोनों खुराकें मिलीं और बाकी को डमी शॉट मिले।

ब्रिटेन और अमेरिका में मिला सबसे प्रभावी वैरिएंट

ब्रिटेन में मिले वैरिएंट और अमेरिका के प्रभावी वैरिएंट सहित कोविड-19 के कई वैरिएंट्स के खिलाफ समान रूप से प्रभावी था। वैक्‍सीन बुजुर्गों और अन्य स्वास्थ्य समस्याओं वाले लोगों सहित उच्च जोखिम वाली आबादी में भी प्रभावी रहा। वैक्‍सीन लगवाने वालों में से ज्‍यादातर ने कहा कि इंजेक्शन लगनें पर हल्का सा दर्द रहा। वहीं एर्क ने कहा कि असामान्य रक्त के थक्के या दिल की समस्याओं की कोई ऐसी रिपोर्ट नहीं थी। नोवावैक्स ने एक प्रेस विज्ञप्ति में परिणामों की सूचना दी और एक मेडिकल जर्नल में प्रकाशित करने की योजना बनाई, जहां स्वतंत्र विशेषज्ञों द्वारा इसकी जांच की जाएगी

Novavax Covid-19
Novavax Covid-19

कैसे काम करती है (Novavax Vaccine)

COVID-19 का टीका शरीर को कोरोनावायरस को पहचानने के लिए प्रशिक्षित करता हैं, विशेष रूप से उस स्पाइक प्रोटीन को जो इसे कोट करता है, जब पहचान हो जाती है तो वैक्‍सीन, वायरस से लड़ने के लिए तैयार हो जाता है। नोवावैक्स वैक्सीन उस प्रोटीन की प्रयोगशाला में विकसित प्रतियों से बनाई गई है। यह अब व्यापक रूप से उपयोग किए जाने वाले कुछ अन्य टीकों से अलग है, जिनमें शरीर को अपना स्पाइक प्रोटीन बनाने के लिए आनुवांशिक निर्देश शामिल हैं।

मध्य प्रदेश : कोरोना का डेल्टा प्लस वैरिएंट आया सामने, एंटीबाडी काकटेल का भी नहीं हुआ असर

नोवावैक्स वैक्सीन को मानक रेफ्रिजरेटर में रखा जा सकता है, जिससे इसे वितरित करना आसान हो जाता है। नोवावैक्स ने पहले आपूर्ति की कमी के कारण विनिर्माण में देरी की घोषणा की थी, लेकिन कंपनी को अब सितंबर के अंत तक एक महीने में 100 मिलियन खुराक और दिसंबर तक 150 मिलियन खुराक एक महीने में उत्पादन तक पहुंचने की उम्मीद है। कंपनी ने अगले वर्ष अमेरिका को 110 मिलियन खुराक और विकासशील देशों को कुल 1.1 बिलियन खुराक की आपूर्ति करने के लिए प्रतिबद्ध किया है।

https://www.youtube.com/watch?v=y7GHza8nEAg