जानिए नोएडा में एयरपोर्ट के नजदीक किस सेक्टर में विकसित होगी इलेक्ट्रॉनिक सिटी

noida-after-the-second-phase-of-noida-airport-the-status-of-electronic-city-will-be-clear
noida-after-the-second-phase-of-noida-airport-the-status-of-electronic-city-will-be-clear

ग्रेटर नोएडा : प्रदेश सरकार ने सोमवार को पेश। हुए बजट में नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के नजदीक इलेक्ट्रानिक सिटी की घोषणा की है। इसे सेक्टर सात में विकसित किया जाएगा इलेक्ट्रानिक सिटी में करीब पांच हजार करोड़ रुपये का औद्योगिक निवेश एवं 25 हजार लोगों को रोजगार मिलेगा।

noida-after-the-second-phase-of-noida-airport-the-status-of-electronic-city-will-be-clear
noida-after-the-second-phase-of-noida-airport-the-status-of-electronic-city-will-be-clear

Live Updates : यहां जाने योगी सरकार के UP Budget 2021 की अहम बातें

सेक्टर सात में बसेगी इलेक्ट्रॉनिक सिटी-

मोबाइल व इलेक्ट्रानिक उपकरण बनाने वाली कंपनियां नोएडा, ग्रेटर नोएडा व यमुना प्राधिकरण क्षेत्र में निवेश कर रही हैं। सबसे अधिक मोबाइल फोन निर्माण इकाई गौतमबुद्ध नगर में स्थापित हुई हैं। निवेशकों के रुझान को देखते हुए प्रदेश सरकार यीडा सिटी में नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के नजदीक सेक्टर सात में इलेक्ट्रानिक सिटी बसाने जा रही है। इसे सात सौ एकड़ में बसाया जाएगा।

बजट भाषण के दौरान “जय श्रीराम” के लगे नारे UP विधानसभा में, जानिए क्यों ?

चार नए औद्योगिक सेक्टर का नियोजन-

प्राधिकरण ने मास्टर प्लान में चार नए औद्योगिक सेक्टर का नियोजन किया था, लेकिन दो सेक्टर 30 व 31 एयरपोर्ट के विस्तार के लिए अधिगृहीत होने जा रही 1365 हेक्टेयर जमीन के तहत आ गए हैं। जबकि सात व आठ सेक्टर अधिग्रहण से बच रहे हैं। सेक्टर सात को इलेक्ट्रानिक व आठ को एविएशन क्षेत्र से जुड़े उद्योगों के लिए आरक्षित किया गया है। यीडा सिटी में सेक्टर 24 भी इलेक्ट्रानिक उद्योग के लिए पहले से आरक्षित है।

कई लोगों को मिला रोजगार-

यमुना प्राधिकरण ने कोविड काल में औद्योगिक निवेश जुटाने में सफलता पाई है। प्राधिकरण ने 950 औद्योगिक भूखंड आवंटन किए और आठ हजार करोड़ रुपये का निवेश जुटाया। इससे एक लाख 94 हजार लोगों के लिए रोजगार के अवसर पैदा हुए हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.