89 बार चुनाव हारने के बाद, हसनुराम एक बार फिर से चुनावी मैदान में

नई दिल्ली: आगरा खंड स्नातक एवं शिक्षक सीट चुनाव (MLC) की नामांकन प्रक्रिया शुक्रवार को भी जारी रही। इसमें शिक्षक के लिए तीन और स्नातक सीट के लिए 14 नामांकन पत्र लिए गए।  विभिन्न पदों पर 89 बार चुनाव हारने के बाद भी 73 वर्षीय हसनुराम अंबेडकरी का हौसला बरकरार है। 90 वीं बार वह फिर से स्नातक सीट से मैदान में उतरे हैं। उधर, कांग्रेस से राजेश कुमार ने नामांकन पत्र लिया है।

हसनुराम ने बताया वे वर्ष 1985 से चुनाव लड़ रहे हैं। जिसमें विधानसभा, लोकसभा, एमएलसी, जिला पंचायत, ग्राम पंचायत, क्षेत्र पंचायत, ब्लॉक प्रमुख, नगर पंचायत, प्रधान, क्रय विक्रय, पार्षद के पद शामिल हैं।

स्नातक सीट:

  • राकेश कुमार द्विवेदी, कन्नौज।
  • दिनेश कुमार, अलीगढ़।
  • मनोरमा वर्मा, आगरा।
  • थान सिंह, हाथरस।
  • हसनुराम अम्बेडकरी, आगरा।
  • नंदलाल सिंह यादव, एटा।
  • विकास अग्निहोत्री, कन्नौज।
  • हेमंत भारद्वाज, मथुरा।
  • मुन्नी देवी, औरैया।
  • ओमप्रकाश, अलीगढ़।
  •  लक्ष्मण प्रसाद शर्मा, अलीगढ़।
  •  प्रमिला यादव, गाजीपुर।
  • अश्विनी सिंह, इटावा।
  •  मनोरमा वर्मा, आगरा।

नामांकन पत्र:

  • शिक्षक सीट:
  • गुमान सिंह यादव, एटा
  • निरंजन सिंह सोलंकी, ओल मथुरा।
  • देव प्रकाश, वृंदावन।

कांग्रेस से कन्नौज के राजेश कुमार द्विवेदी, जनाधिकार पार्टी से हाथरस के थान सिंह कुशवाह और बाकि के निर्दलीय रहे। दूसरे दिन भी नामांकन नहीं हुआ। दोनों सीटों के लिए 12 नवंबर तक नामांकन होने हैं। इधर, सुबह 11 बजे से दोपहर तीन बजे तक प्रक्रिया चली। कुल 17 प्रत्याशियों ने पर्चा खरीदा। इस दौरान कोविड 19 के नियमों का सख्ती से पालन किया गया।

Leave a comment

Your email address will not be published.