एमएलसी चुनाव की मतगणना जारी, मेरठ में काउंटिंग बूथ पर हंगामा

meerut mlc election count
meerut mlc election count

दिल्लीः मेरठ खंड स्नातक और शिक्षक चुनाव की मतगणना गुरुवार सुबह आठ बजे से शुरु हो गई। इससे पहले 6:30 पर स्ट्रांग रूम खोले गए थे। सहायक रिटर्निंग ऑफिसर रजनीश राय ने बताया कि स्ट्रांग रूम खोले जाने के दौरान प्रत्याशियों से उपस्थित रहें। उन्होंने बताया कि मतपेटी कताई मिल स्थित स्ट्रांग रूम में पुलिस अभिरक्षा में रखी गईं थीं. कोविड प्रोटोकॉल के बीच निर्धारित टेबल पर मतपेटियों को खोलने का काम शुरू हो गया है। सुबह जिलाधिकारी के. बालाजी की मौजूदगी में मतगणना की कार्यवाही शुरू हुई। जिलाधिकारी के अलावा ऑब्जर्वर समीर वर्मा भी यहां मौजूद है। इसके अलावा सभी प्रत्याशियों के एजेंट मतगणना स्थल पर दिखाई दे रहे हैं.

सभी राजनीतिक दलों के कैंप भी कताई मिल मुख्य मार्ग पर मतगणना स्थल से निर्धारित दूरी पर बने हैं। प्रशासन की ओर से कैंप बनाए गए हैं, जिनमें मेडिकल कैंप कोविड-19 कैंप के अलावा पुलिस कैंप भी बनाया गया है। संभावना जताई जा रही है कि देर शाम तक मतपेटियों को खोल कर मतपत्रों को अलग-अलग करने का काम होगा।

फर्जी मतदान का आरोप-

एमएलसी प्रत्याशी डॉ. हरविंदर कुमार ने रिटर्निंग ऑफिसर को पत्र लिखकर मांग की कि मतगणना के दौरान किसी भी राजनीतिक दल को न बुलाया जाए। विशेषकर भाजपा के विधायक, सांसद, मंत्री व पार्टी पदाधिकारियों को अनुमति न दी जाए। उन्होंने कहा कि ब्लॉक दौराला पर बूथ संख्या 36 पर फर्जी मतदान हुआ। अधिकारियों ने फोन रिसीव नहीं किया।

meerut mlc election count
meerut mlc election count

भाजपा विधायक के खिलाफ खोला मोर्चा-

माध्यमिक शिक्षक संघ के पदाधिकारियों ने सिवालखास विधायक के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। उन्होंने बुधवार को कमिश्नरी पर धरना देकर मंडलायुक्त से रिपोर्ट दर्ज कर विधायक पर कार्रवाई किए जाने की मांग की। उनका आरोप है कि विधायक जितेंद्र सतवाई ने स्नातक व शिक्षक चुनाव में मतदान के दौरान जानी में शिक्षकों से मारपीट कर बूथ कैप्चरिंग का प्रयास किया।

उनके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की जाए। यदि निष्पक्ष जांच कर कार्रवाई नहीं की गई तो चार दिसंबर से आंदोलन किया जाएगा। यहां प्रांतीय उपाध्यक्ष उमेश त्यागी, प्रांतीय मंत्री सुशील सिंह, अरुण पाल आत्रेय, रवींद्र, संजय शर्मा, संदीप शर्मा, सुखनंदन त्यागी, विजेंद्र ध्यानी आदि रहे।

प्रत्याशियों के सड़क किनारे लगने लगे टेंट-

जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ट्रैफिक के निरीक्षण के अतिरिक्त बुधवार शाम को डॉग स्क्वायड ने भी जांच की। वहीं, प्रत्याशियों ने टेंट लगाने शुरू कर दिए हैं। एएसपी कृष्ण कुमार विश्नोई और सीओ ब्रह्मपुरी नजर रखे हुए हैं।

 

1 comment

Leave a comment

Your email address will not be published.