CM योगी का सपा पर हमला कहा- हाथरस हत्याकांड में सवालों के घेरे में फिर से लाल टोपी

lucknow-city-cm-yogi-adityanath-on hathras case
lucknow-city-cm-yogi-adityanath-on hathras case

नई दिल्ली : उत्तर प्रदेश बजट 2021-22 पर बुधवार को विधानसभा में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सदन में पेश बजट के माध्यम से प्रदेश के विकास को आगे बढ़ाने का कार्य किया गया है। काफी रुचि के साथ सभी पक्षों के सदस्यों ने सदन में अपना पक्ष रखा। लोकतांत्रिक प्रणाली का सृजन प्रदेश का विधानमंडल कर रहा है, यह हम सभी के लिए गौरव का विषय है। इसके लिए सभी सदस्यों का अभिनंदन करता हूं। उन्होंने कहा कि प्रदेश ही नहीं देश स्तर पर भी यूपी के बजट की सराहना की है।

lucknow-city-cm-yogi-adityanath-on hathras case
lucknow-city-cm-yogi-adityanath-on hathras case

सीएम योगी का सपा पर हमला-

सीएम योगी ने एक बार फिर सदन में समाजवादी पार्टी की टोपी का मुद्दा उछाला। उन्होंने कहा कि हाथरस केस में यह टोपी फिर से सवालों के घेरे में हैं। हाथरस हत्याकांड में एक बार फिर यह टोपी शर्मसार हुई है। इंटरनेट मीडिया पर लोग पूछ रहे हैं कि आखिर यह टोपी वाला कौन है? इस पर नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी एक पोस्टर दिखाते हुए कहा कि इसमें भाजपा सांसद के साथ व्यक्ति खड़ा है। इस पर सीएम योगी ने कहा कि वहां एक समाजवादी पार्टी की रैली होने वाली है। उस रैली में उस व्यक्ति के पोस्टर होर्डिंग लगे हैं। होर्डिंग, पोस्टर में समाजवादी पार्टी के नेताओं के भी चित्र हैं।

कविता का किया पाठ

यूपी विधानसभा में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रामधारी सिंह दिनकर की कविता की पंक्तियां ‘सच है विपत्ति जब आती है तो कायर को ही दहलाती है, सूरमा नहीं विचलित होते क्षण एक नहीं धीरज खोते। विघ्नों गले लगाते हैं, कांटों में राह बनाते हैं, मुंह से कभी नहीं उफ कहते।’ सुनाते हुए कहा कि देश के लिए और प्रदेश के लिए अक्षरशः सही बैठती हैं। बजट के परिप्रेक्ष्य में यदि देखना हो तो बिना विचलित हुए हम लोगों ने इसका अनुसरण किया है। उन्होंने कहा जो पिछले सरकारें थीं वह केवल चार्वाक के सिद्धांत ‘यावज्जीवेत्सुखं जीवेत् ऋणं कृत्वा घृतं पिबेत्’ यानि ‘मनुष्य जब तक जीवित रहे तब तक सुख पूर्वक जिये। ऋण करके भी घी पिये।’ पर कार्य करती थी।

Leave a comment

Your email address will not be published.