फिल्मकार आयशा सुल्तान के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज, जानें पूरा मामला

ayesha sultan
ayesha sultan

नई दिल्लीः कोरोना महामारी को लेकर फिल्म निर्माता आयशा सुल्ताना के भड़काऊ बयान पर उनके खिलाफ स्थानीय पुलिस ने गुरुवार को देशद्रोह का मामला दर्ज किया है।देशद्रोह का मामला दर्ज होने के बाद आयशा ने कहा है कि वह लक्षद्वीप के लिए संघर्ष जारी रखेंगी. पुलिस ने उन्हें पूछताछ के लिए 20 जून को बुलाया है।

स्वास्थ्यकर्मी ने काटे कोरोना मरीजों के बाल और दाढ़ी, सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल

देशद्रोह का मुकदमा दर्ज

बता दें की लक्षद्वीप बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष अब्दुल खादर की शिकायत पर आयशा के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 124 ए (देशद्रोह) और 153 बी (अभद्र भाषा) के तहत केस दर्ज हुआ है.आयशा सुल्तान ने सोशल मीडिया पर कहा, ‘मैं उस जमीन के लिए अपनी लड़ाई जारी रखूंगी, जहां मैं पैदा हुई. हम किसी से नहीं डरते. लक्षद्वीप के लिए मेरा संघर्ष जारी रहेगा और अब मेरी आवाज और तेज होने वाली है।

अफवाह फैलाने का आरोप

दरअसल एक टीवी चैनल की बहस के दौरान आयशा ने लक्षद्वीप प्रशासक प्रफुल्ल पटेल के फैसलों और कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते उनकी आलोचना की थी जिसके बाद अफवाह फैलाने के आरोप में उनके खिलाफ मामला दर्ज कराया गया। जिसके बाद मामला भाजपा की लक्षद्वीप इकाई के अध्यक्ष अब्दुल खादर की शिकायत पर दर्ज हुआ।

आयशा सुल्ताना

आयशा सुल्ताना लक्षद्वीप के चेटियाथ द्वीप की रहने वाली हैं. उन्होंने कई मलयालम फिल्म निर्माताओं के साथ काम किया है. शिकायत में आरोप लगाया गया है कि सुल्ताना ने टीवी परिचर्चा के दौरान केंद्र शासित प्रदेश लक्षद्वीप में कोविड-19 के फैलने को लेकर झूठी खबर फैलाई. लक्षद्वीप में प्रशासन द्वारा कुछ सुधारवादी कदम उठाए जाने के बाद से विभिन्न राजनीतिक दलों की ओर से विरोध किया जा रहा है।

 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *