किसान आंदोलन : अगर आप दिल्ली में सफर कर रहे हैं तो इन रास्तों पर जाने से बचें

kisan andolan 2020
kisan andolan 2020

नई दिल्ली : कृषि कानून के मुद्दे पर आंदोलन कर रहे किसानों और केंद्र सरकार के बीच अब शनिवार को 5वें दौर की बातचीत होगी. कल चौथे दौर की बातचीत से भी कोई निष्कर्ष नहीं निकला. इन सबके बीच दिल्ली के रास्तों पर सख्ती का पहरा है. दिल्ली-हरिय़ाणा- यूपी की सीमाओं पर किसान आदोलन के चलते पाबंदी का ताला लगा है.

kisan andolan 2020
kisan andolan 2020

दिल्ली के बोर्डर हैं जाम-

किसान दिल्ली के बॉर्डर पर चारों ओर जमा हैं. गाजीपुर बॉर्डर पर गुरुवार को किसानों ने फिर से आगे बढ़ने की कोशिश की, जिसे पुलिस ने नाकाम कर दिया. इस दौरान किसानों और पुलिस के बीच तनातनी भी हुई. गाजीपुर, टिकरी, और सिंधु बॉर्डर पर अभी भी किसानों का पहुंचना जारी है. किसानों के प्रदर्शन को देखते हुए ट्रैफिक पुलिस ने एडवाइजरी जारी की है.

खोले गए ये रास्ते-

दिल्ली पुलिस ने टिकरी, झारोदा बॉर्डर को पूरी तरह से बंद कर दिया है. वहीं, बदुसराय बॉर्डर छोटी गाड़ियों जैसे कार और टू-व्हीलर को लिए खोली गई है. झटीकरा बॉर्डर को सिर्फ टू-व्हीलर के लिए खोला गया है. सिंधु, लामपुर, औचंडी, साफियाबाद, पिओ मनीआरी और साबोली बॉर्डर को भी बंद कर दिया गया है

एनएच 44 है बन्द-

इसके अलावा एनएच-44 को दोनों तरफ से बंद किया गया है. लोगों से एनएच-8/भोपुरा/अप्सरा बॉर्डर/पेरिफेरक एक्सप्रेस-वे लेने की सलाह दी गई है. साथ ही आउटर रिंग रोड, जीटीके रोड और एनएच-44 पर यात्रा न करने की सलाह दी गई है.

Leave a comment

Your email address will not be published.