किसान आंदोलन के चलते बॉर्डर सील करने के बाद अब इन बॉर्डर पर शुरू हुआ बवाल

kisan andolan 2020
kisan andolan 2020

नई दिल्ली : अंबाला हाइवे पर किसानों को रोकने के लिए वाटर कैनन का इस्तेमाल किया जा रहा है, साथ ही किसानों पर आंसू गैस के गोले छोड़े जा रहे हैं. यहां किसानों का गुस्सा बढ़ता जा रहा है और अब किसानों ने बैरिकेडिंग को ही नदी में फेंक दिया है. बिगड़ती हुई स्थिति के बीच RAF को बुलाया गया और अब एक्शन लिया जा रहा है.

kisan andolan 2020
kisan andolan 2020

किसानों के विरोध प्रदर्शन के कारण दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर पर पुलिस मुस्तैद है. दिल्ली से जम्मू जाने वाले हाइवे को करनाल के पास बंद किया गया है, जिसके कारण लोगों को परेशानी हो रही है.

समर्थन में उतरे अरविंद केजरीवाल-

किसानों के प्रदर्शन पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया है. केंद्र सरकार के तीनों खेती बिल किसान विरोधी हैं. ये बिल वापिस लेने की बजाय किसानों को शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने से रोका जा रहा है, उन पर वॉटर कैनन चलाई जा रही हैं. किसानों पर ये जुर्म बिलकुल गलत है, शांतिपूर्ण प्रदर्शन उनका संवैधानिक अधिकार है.

दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर पर भारी सुरक्षाबल तैनात है, यहां पर ड्रोन कैमरे से भी प्रदर्शन पर नजर रखी जा रही है. हरियाणा में भी करनाल के पास पुलिस ने बैरिकेटिंग की है.

दिल्ली हुई अलर्ट-

पंजाब के करीब 30 किसान संगठनों ने आज दिल्ली में महाधरने की बात कही है. हरियाणा, पंजाब बॉर्डर से बुधवार को ही किसानों ने दिल्ली कूच किया था. किसानों का कहना है कि वो केंद्र द्वारा लाए गए कानूनों के खिलाफ हैं, हम एक महीने के राशन के साथ आए हैं. किसानों ने अपने प्रदर्शन में नारा दिया है, ‘घेरा डालो, डेरा डालो’.

दिल्ली के अलावा देश के अन्य हिस्सों में भी किसानों को समर्थन मिल रहा है. गुरुवार को बंगाल में करीब 21 किसान संगठन प्रदर्शन करेंगे और किसानों की मांगों का समर्थन करेंगे.

Leave a comment

Your email address will not be published.