कश्मीर घाटी को दहलाने की साजिश हुई नाकाम….

नई दिल्ली : जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ सुरक्षाबलों का अभियान जारी है,खुफिया जानकारी के बाद नगरोटा में सुरक्षा कड़ी की गई और हर वाहन की जांच शुरू की गई, इस दौरान सुरक्षा बलों ने बान टोल प्लाजा के पास एक नाका लगाया था. वाहनों की जांच के दौरान, आतंकवादियों के एक समूह ने सुरक्षा बलों पर फायरिंग की, फायरिंग के बाद आतंकी जंगल की तरफ भागने लगे. इसके बाद सुबह 5 बजे मुठभेड़ शुरू हो गई. इसमें 4 आतंकवादी मारे गए हैं, एनकाउंटर के चलते जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग बंद है।

जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ सुरक्षाबलों का अभियान जारी है, खुफिया जानकारी के बाद नगरोटा में सुरक्षा कड़ी की गई और हर नाके पर आने जाने वाले वाहनों की जांच शुरू की गई, इस दौरान सुरक्षा बलों ने बान टोल प्लाजा के पास एक नाका लगाया था।

पुलिस के चार जवान घायल

जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने बताया कि मारे गए सभी आतंकी जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े हुए थे. मारे गए गए चार आतंकियों में से तीन के शव बरामद कर लिए गए हैं. चौथे आतंकी के शव की तलाश की जा रही है. डीजीपी दिलबाग सिंह ने बताया कि इस एनकाउंटर में कुछ पुलिसकर्मियों को भी मामूली चोटें आई हैं. जम्मू के एसएसपी श्रीधर पाटिल भी मामूली रूप से घायल हो गए हैं।

नगरोटा में एनकाउंटर के चलते हाइवे बंद

माना जा रहा है कि 3-4 आतंकवादी ट्रक के जरिये जम्मू-श्रीनगर हाईवे के रास्ते कश्मीर जाने की कोशिश कर रहे थे. इसी दौरान सुरक्षाबलों ने आतंकियो को घेर लिया और फिर एनकाउंटर शुरू हो गया. इस घटना के चलते जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग के साथ लगे नगरोटा में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है, वाहनों की आवाजाही पर नजर रखी जा रही है।

चुनाव से पहले एनकाउंटर

हालांकि अभी तक यह पता नहीं चल पाया है कि ट्रक में कितने आतंकी सवार थे. इसे लेकर अभी तक कोई आधिकारिक बयान भी सामने नहीं आया है. ट्रक से भारी मात्रा में हथियार और विस्फोटक भी बरामद किए गए हैं. दिलबाग सिंह ने कहा कि ये आतंकी किसी बड़ी वारदात की फिराक में थे. लेकिन सुरक्षा बलों ने पहले ही इन्हें ढेर कर दिया. यह एनकाउंटर उस समय हुआ है जब डीडीसी के चुनाव होने वाले हैं. डीडीसी के लिए पहले चरण का 28 नवंबर को मतदान होना है।

नगरोटा में हाइवे पर वाहनों की चेकिंग जारी

बहरहाल, सुरक्षा बलों ने बताया कि गाड़ी चेकिंग के दौरान आतंकियों ने फायरिंग करनी शुरू कर दी. सुरक्षा बलों को कश्मीर में आतंकियों के ट्रक से जाने की सूचना थी. इसकी जांच करने के लिए हाइवे पर नाका लगाकर गाड़ियों की जांच शुरू की गई थी. जिस ट्रक रोका गया है उस पर जम्मू-कश्मीर का नंबर लगा हुआ है. अभी एनकाउंटर जारी है. हाइवे बंद है. आतंकियों के ट्रक से भारी मात्रा में गोला बारूद बरामद किया गया है।

इससे पहले 6 नवंबर 2020 को दक्षिणी कश्मीर के पुलवामा जिले के मेज पंपोर इलाके में आतंकियों और सुरक्षाबलों की मुठभेड़ हुई थी. मुठभेड़ अगले दिन सुबह तक चली. इस एनकाउंटर में एक आतंकी को मार गिराया गया है. वहीं, एक को सरेंडर करने के पर मजबूर भी किया. इस एनकाउंटर के दौरान दो स्थानीय लोग भी घायल हो गए, जिसमें एक की मौत हो गई।

Leave a comment

Your email address will not be published.