कासगंज : सोरों तीर्थनगरी में शुरू हुआ कांवड़ मेला, पहुंचने लगे कांवड़िए, निर्देश जारी

kasganj-kanwad-mela
kasganj-kanwad-mela

कासगंज : सोरों महाशिवरात्रि पर्व को लेकर तीर्थ नगरी में कांवड़ मेला शुरू हो गया। आसपास के जिलों के अलावा अन्य प्रदेशों से कांवड़िए लहरा गंगाघाट पहुंचने लगे हैं। सोरों में कांवड़ और अन्य सामान की दुकानें सज गई हैं। सोमवार को एसडीएम और सीओ ने लहरा गंगाघाट का निरीक्षण कर अधीनस्थों को निर्देश दिए।

kasganj-kanwad-mela
kasganj-kanwad-mela

अन्य प्रदेश से आते हैं कांवड़िये

महाशिवरात्रि पर्व 11 मार्च को है। भगवान शिव का जलाभिषेक करने के लिए लहरा गंगाघाट पर कांवड़ में जल लेने प्रदेश के अलावा मध्य प्रदेश, राजस्थान से भी बड़ी संख्या में कांवड़िए आते हैं। माघ पूर्णिमा के बाद से ही इनका आना शुरू हो जाता है। यह शिवभक्त जल लेकर आठ से दस दिन में यात्रा पूरी कर महाशिवरात्रि पर्व पर अपने गांव पहुंचेंगे और भगवान शिव का जलाभिषेक करेंगे। तीर्थनगरी में 10 दिन तक कांवड़ मेला लगता है। व्यवस्थाओं को लेकर सोमवार को एसडीएम ललित कुमार, सीओ आरके तिवारी ने लहरा स्थित गंगाघाट का निरीक्षण किया।

एसडीएम ने दिए निर्देश

थाना सोरों में बैठक कर एसडीएम ललित कुमार, सीओ आरके तिवारी ने पुलिसकर्मियों विद्युत विभाग, चिकित्सा विभाग एवं नगर पालिका के कर्मचारियों और अधिकारियों को निर्देश दिए। स्वास्थ्य विभाग को लहरा गंगाघाट पर स्वास्थ्य शिविर लगाने, पालिका को घाट पर जेसीबी, पेयजल, मोबाइल टायलेट की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। विद्युत विभाग को निर्बाध आपूर्ति के निर्देश दिए। सोरों के इंस्पेक्टर अनिल कुमार को निर्देश दिए कि सोरों से लेकर लहरा घाट तक यातायात के बेहतर प्रबंध किए जाएं। लहरा में मेला पुलिस चौकी बनाई जाए। कई वर्षों से कांवड़ लेने आ रहा हूं। नौ दिन में घर पहुंच जाता हूं। सोमवार को भोले की कांवड़ उठाई है। नौ या दस मार्च को गांव पहुंच जाऊंगा।

Leave a comment

Your email address will not be published.