कंगना रनोट के मुंबई ऑफ़िस की तोड़फोड़ को बॉम्बे हाई कोर्ट ने बताया दुर्भावनापूर्ण

kangana ranaut news
kangana ranaut news

नई दिल्ली : कंगना रनोट ने अपने मुंबई स्थित दफ़्तर में BMC की तोड़फोड़ की कार्रवाई के ख़िलाफ़ बॉम्बे हाई कोर्ट में याचिका दायर की थी, जिसका आज फ़ैसला देते हुए उच्च न्यायालय ने इस कार्रवाई को दुर्भावनापूर्ण माना है।बॉम्बे हाई कोर्ट ने बीएमसी के नोटिसों को खारिज करते हुए एक्ट्रेस को मुआवज़ा दिलवाने के लिए नुक़सान का आंकलन करवाने के निर्देश भी दिये हैं।

kangana ranaut news
kangana ranaut news

आज बॉम्बे हाई कोर्ट ने इस मामले में अपना फ़ैसला सुनाया, जिसमें 7 और 9 सितम्बर को कंगना को भेजे गये नोटिस खारिज करते हुए कहा कि उनके दफ़्तर में बीएमसी का एक्शन दुर्भावनापूर्ण इरादे से किया गया था। इस रिपोर्ट के आधार पर उच्च न्यायालय कंगना के मुआवज़ा पर फ़ैसला देगा हाई कोर्ट ने एक वैल्यूअर नियुक्त करने के लिए भी कहा है, जो अपनी रिपोर्ट जमा करेगा. साथ ही हाई कोर्ट ने एक्ट्रेस को सोशल मीडिया के ज़रिए दूसरे लोगों पर ग़ैरज़रूरी टिप्पणियां ना करने के लिए भी निर्देश भी दिये।

फैसले के बाद कंगना ने किया टविट- 

बॉम्बे हाई कोर्ट के इस फ़ैसले पर कंगना ने अपनी खुशी जाहिर करते हुए लिखा- जब कोई सरकार के ख़िलाफ़ खड़ा होता है और जीतता है, तो यह उसकी अपनी जीत नहीं, बल्कि यह प्रजातंत्र की जीत है. उन सभी का शुक्रिया, जिन्होंने मुझे साहस दिया और उनका भी शुक्रिया, जो मेरा सपना टूटने पर हंसे थे. आप लोग विलेन बने, इसलिए मैं हीरो बन सकी।

kangana ranaut news
kangana ranaut news

आपको बता दें जिस वक्त कंगना मुंबई में नहीं थीं तब  सितंबर में बीएमसी ने कंगना रनोट के मुंबई में  स्थित ऑफिस में अवैध निर्माण के आरोपों को लेकर तोड़फोड़ की थी। इसके बाद कंगना ने मुंबई हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था कि बीएमसी आगे की कार्यवाही ना कर सके. जिसके बाद बॉम्बे हाई कोर्ट ने बीएमसी की कार्रवाई पर रोक लगा दी थी।

Leave a comment

Your email address will not be published.