ISRO: 2021 का पहला स्पेस मिशन हुआ लांच, सफलतापूर्वक लॉन्च किया PSLV-C51

ISRO PSLV-C51
ISRO PSLV-C51

बेंगलुरु: इसरो ने इस साल के अपने पहले मिशन को आज सफलतापूर्वक लॉन्च कर दिया, इसरो ने श्रीहरिकोटा स्पेसपोर्ट से सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से अमोनिया -1 और 18 अन्य उपग्रहों को ले जाने वाले PSLV-C51 को सफलतापूर्वक लॉन्च किया। 2021 में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) का यह पहला लांच है। यह अब तक के सबसे लंबे ऑपरेशन्स में शामिल है। इसरो के मुताबिक, सतीश धवन स्पेस सेंटर, एसएचएआर, श्रीहरिकोटा से पीएसएलवी51/एमाजोनिया-1 मिशन का लांच सुबह 10.24 बजे हुआ।

ISRO PSLV-C51
ISRO PSLV-C51

इसरो (ISRO) के मुताबिक, इस रॉकेट को चेन्नई से करीब 100 किलोमीटर दूर श्रीहरिकोटा से प्रक्षेपित किया गया है. इस रॉकेट को  28 फरवरी को सुबह 10 बजकर 24 मिनट पर लॉन्च किया गया. इसकी उल्टी गिनती शनिवार सुबह 8 बजकर 54 मिनट पर शुरू हो गई थी।

ISRO PSLV-C51
ISRO PSLV-C51

इसरो (ISRO) के मुताबिक, ब्राजील के एमाजोनिया-1 प्राइमरी सेटेलाइट के साथ ही पीएसएलवी–सी51 से 18 और सेटेलाइट लांच किए जाएंगे। यह पीएसएलवी का 53वां मिशन है। पीएसएलवी–सी51/ एमाजोनिया–1 अंतरिक्ष विभाग के तहत सरकारी कंपनी न्यूस्पेस इंडिया लिमिटेड ([एनएसआइएल)] का पहला समर्पित वाणिज्यिक मिशन है। एनएसआइएल इस मिशन को अमेरिका की स्पेसफ्लाइट इंक के साथ वाणिज्यिक अनुबंध के तहत पूरा कर रही है।

ISRO PSLV-C51
ISRO PSLV-C51

अमेजोनिया-1 के बारे में बयान में बताया गया है कि यह उपग्रह अमेजन क्षेत्र में वनों की कटाई की निगरानी और ब्राजील के लिए विविध कृषि के विश्लेषण के लिए उपयोगकर्ताओं को दूरस्थ संवेदी आंकड़े मुहैया कराएगा तथा मौजूदा ढांचे को और मजबूत बनाएगा।

Leave a comment

Your email address will not be published.