भारत ने जम्मू ड्रोन हमले को संयुक्त राष्ट्र महासभा में उठाया, NIA को सौंपी आतंकी हमले की जाँच

नई दिल्ली : Jammu terror attack : जम्मू में भारतीय वायु सेना स्टेशन पर हुए दो ड्रोन हमले के एक दिन बाद भारत ने यह मुद्दा संयुक्त राष्ट्र महासभा में उठाया है। भारत ने साफ कहा कि हथियारबंद ड्रोन्‍स का इस्‍तेमाल आतंकी गतिविधियों के लिए हो रहा है इस आतंकी हमले की जांच नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी NIA को सौंपी गई है। भारतीय वायुसेना स्टेशन पर अपनी तरह के ऐसे पहले आतंकवादी हमले की जांच एनआईए को सौंपने का फैसला गृह मंत्रालय ने किया.

pm meeting : पीएम मोदी आज करेंगे अहम बैठक , अमित शाह और राजनाथ सिंह भी रहेंगे मौजूद

संयुक्त राष्ट्र में भारत ने कहा

संयुक्त राष्ट्र में भारत की ओर से कहा गया कि रणनीतिक और वाणिज्यिक संपत्तियों के खिलाफ हथियारबंद ड्रोन के इस्तेमाल पर ध्यान देने की जरूरत है। इस तरह की गतविधि भविष्य के लिए खतरा बन सकती है यह दुनिया भर में सुरक्षा एजेंसियों के लिए खतरा और चुनौती बन गया है।

पकिस्तान के आतंकवादी संगठन

सीमा पार से हथियारों की तस्करी के लिए ड्रोन का उपयोग करने वाले आतंकवादियों को देखा है। गौतलब है कि दो दिन पहले ही जम्मू एयरपोर्ट ATC और वहां पार्क के MI17 के जहाज़ों को निशाना बनाने के मकसद से आतंकिओं ने ड्रोन हमले किये थे। ड्रोन के जरिये आतंकी हथियार या विस्फोटक एक जगह से दूसरे जगह तक आसानी से भेज रहे हैं । इस आतंकवादी घटना के पीछे कुछ पकिस्तान के आतंकवादी संगठन होने की आशंका जताई जा रही है।

Leave a comment

Your email address will not be published.