पाकिस्तान और सऊदी अरब के रिश्तों में कड़वाहट, लौटाना पड़ेगा दो अरब डॅालर

india pakistan news
india pakistan news

नई दिल्ली : सऊदी अरब के साथ पाकिस्तान के रिश्तों का इतिहास यूं तो ठीक ही रहा है और मुस्लिम देश होने के कारण दोनों के बीच दोस्ताना संबंध रहे हैं, लेकिन हाल यह है कि नाराज़ साऊदी अरब ने पाकिस्तान को तेल की सप्लाई न केवल रोक दी, बल्कि कर्ज़ों पर भी रोक लगा दी है यही नहीं, सऊदी अरब अब पाकिस्तान से वसूली के मूड में भी है।  सऊदी अरब का कर्ज लौटाने की तैयारी कर रही है और इसके साथ ही दूसरे स्रोतों से भी कर्ज जुटाने की कोशिश कर रही है ताकि विदेशी मुद्रा भंडार 12 अरब डॉलर पर बना रहे पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था पहले से ही डांवाडोल है और महंगाई चरम पर है, ऐसे में सऊदी का कर्ज लौटाना उसके लिए बेहद कष्टदायक होगा।

india pakistan news
india pakistan news

पाकिस्तान लगातार दबाव बना रहा था कि कश्मीर मुद्दे पर सऊदी अरब उसका साथ दे और भारत सरकार के कदमों को लेकर सख्त रवैया दिखाए इसी दबाव को लेकर पाकिस्तान ने यहां तक धमकी दे दी कि सऊदी अरब के वर्चस्व वाली संस्था ऑर्गेनाइज़ेशन ऑफ इस्लामिक कॉन्फ्रेंस अगर कश्मीर मुद्दे पर साथ नहीं देगी तो पाक मुस्लिम देशों के दूसरे धड़े के साथ याराना निभाएगा। अब यह चाल पाकिस्तान को महंगी पड़ रही है क्योंकि सऊदी अरब के पास भी शिकायतों का पिटारा है. उसने पाकिस्तान के कर्ज़ चुकाने के ढीले रवैये पर लगाम कसकर 1 अरब डॉलर की वसूली की है।

Leave a comment

Your email address will not be published.