मोदी सरकार का विरोध करते हुए IAS से इस्तीफ़ा देने वाले शाह फैसल ने की पीएम मोदी की तारीफ, जानिए क्या है वजह

ias-shah-faesal-praise-modi-government
ias-shah-faesal-praise-modi-government

नई दिल्ली : शाह फैसल वह हैं जिन्होंने कश्मीर के मुद्दे पर केंद्र सरकार को कोसते हुए आईएएस की नौकरी से इस्तीफ़ा दे दिया और नयी पार्टी बना ली. वही शाह फैसल जिन्होंने जम्मू और कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाये जाने को लेकर कड़ा विरोध किया था. उस शाह फैसल के मिजाज आज कल कुछ बदले बदले से है. कभी मोदी सरकार के धुर विरोधी रहे शाह फैसल अब मोदी सरकार का गुणगान कर रहे हैं और इतना कर रहे हैं कि उनके ट्वीट देख लोगों को यकीन ही नहीं हो रहा.हालाँकि आज तक केंद्र सरकार ने उनका इस्तीफ़ा मंजूर नहीं किया है.

ias-shah-faesal-praise-modi-government
ias-shah-faesal-praise-modi-government

शाह ने भारत को बताया जगत गुरु-

शाह फैसल ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘ये किसी वैक्सीनेशन प्रोग्राम से बढ़कर है. ये सुशासन है, मानवीय मूल्यों का निर्माण है, राष्ट्र निर्माण है और भारत दुनिया में जगत गुरू की तरह नेतृत्व करने वाला बन रहा है.’शाह फैसल के जिस ट्वीट को लेकर खूब चर्चा है उस ट्वीट में वो वैक्सीनेशन कार्यक्रम को लेकर मोदी सरकार की जमकर तारीफ़ कर रहे हैं.अपने ट्वीट में उन्होंने भारत को जगत गुरु तक बता दिया है

फैसल का इस्तीफ़ा केंद्र ने नहीं किया स्वीकार-

केंद्र सरकार की नज़र शाह फैसल के जरिये महबूबा मुफ़्ती और अब्दुल्ला परिवार की राजनीति को हमेशा के लिए ख़त्म करना है. केंद्र शाह फैसल को कश्मीरियों के नए रोल मॉडल के रूप में सामने लाना चाहती है. ताकि ये दिखाया जा सके कि मुख्य धारा में आ कर ही कश्मीरी युवाओं का मुस्तकबिल रौशन हो सकेगा. शाह फैसल का ये बदला हुआ रूप देख सब हैरत में हैं. कहा जा रहा है कि इसके पीछे केंद्र सरकार की रणनीति है और शाह फैसल को केंद्र सरकार का आशीर्वाद है. इस पर बार यकीन और पुख्ता हो जाता है क्योंकि अभी तक शाह फैसल का इस्तीफ़ा केंद्र सरकार ने स्वीकार नहीं किया है. अटकलें ये भी लगाई जा रही है कि शाह फैसल उप राज्यपाल मनोज सिन्हा के अडवाइजर बन सकते हैं.

Leave a comment

Your email address will not be published.