12 करोड़ छात्रों के खाते में ट्रांसफर होगा पैसा, शिक्षा मंत्री ने दी जानकारी

mid day meal scheme
mid day meal scheme

नई दिल्लीः केंद्र सरकार ने मिड डे मील योजना के तहत एक से आठवीं कक्षा तक के छात्रों के लिए बड़ा फैसला किया है , दोपहर भोजन योजना (मिड डे मील) के तहत छात्रों को प्रत्यक्ष लाभ अंतरण (direct benefit transfer) के जरिए पैसा मुहैया कराने का फैसला किया है। केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने 11 करोड़ 80 लाख छात्रों को विशेष राहत उपाय के तौर पर यह सहायता उपलब्ध कराने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी।

इस पोर्टल पर जारी होगा कोरोना के कारण अनाथ हुए बच्चों का आंकड़ा, जानें

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय

बता दें की सरकार के इस उपाय से देश में सरकारी और सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों में एक से आठवीं कक्षा तक के छात्रों को लाभ होगा।शिक्षा मंत्रालय के मुताबिक, केंद्र सरकार इसके लिए राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों को एक हजार दो सौ करोड़ रुपये की अतिरिक्त राशि मुहैया कराएगी। इस निर्णय से कोविड महामारी के दौरान बच्चों को जरूरी पोषण उपलब्ध कराने और उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मदद मिलेगी। इस बात की जानकारी केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक ने ट्वीट कर दी है।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ उठाएगा कोरोना में अनाथ हुए बच्चों का दायित्व- विनीत कौशल

दोपहर भोजन योजना

केंद्र के इस फैसले से मध्याह्न भोजन कार्यक्रम को तेजी मिलेगी। दोपहर भोजन योजना के तहत कैश ट्रांसफर करने का यह निर्णय बच्चों के पोषण स्तर को सुरक्षित रखने में मदद करेगा। इस कोरोना महामारी के समय में उनकी इम्युनिटी को बनाए रखने में मदद करेगा। केंद्र सरकार इस योजना के लिए राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों को लगभग 1200 करोड़ रुपये की अतिरिक्त राशि देगी।

 

Leave a comment

Your email address will not be published.