गर्लफ्रेंड धोती है एक्स के कपड़े, खिलाती है खाना, एक आपबीती शक्स की कहानी

Girlfriend
Girlfriend

नई दिल्ली: Girlfriend हमारे भारतीय समाज में एक कहावत है, बिती ताही विसार दें, आगे कि सुध ले।अतीत भुलकर आगे बढ़ जाने से ही एक बेहतर जिंदगी और नए रिश्ते की शुरुआत की जा सकती है। हालांकि, एक विदेशी युवक ने रिलेशनशिप कॉलम में अपनी अनोखी परेशानी शेयर है।

Girlfriend: एक्स ब्वॉयफ्रेंड कपड़े धोने के लिए देता है पैसे

शक्स ने अपनी आपबीती बताते हुए कहा कि उसकी गर्लफ्रेंड का एक्स ब्वॉयफ्रेंड आज भी उस कपड़े धोने के लिए पैसे देता है। यहां तक की उसके घर हर रोज डिनर के लिए भी आता है। शक्स ने अपने डायरी में आगे लिखा है कि अपनी आंखों के सामने ये सब देखना एक भद्धे मजाक जैसा लगता है।

Girlfriend
Girlfriend

हिंसात्मक रवैया के कारण दोनों के बीच बढ़ गई थी दूरियां 

अपने रिलेशनशिप की कमियों को उजागर करते हुए युवक कहता है कि ‘ मेरी गर्लफ्रेंड 41 साल की है और उसका एक्स 45 साल का है। उनकी एक बेटी भी है। जिसकी उम्र तकरीब़न 9 साल है। उसके एक्स का रवैया एक जमाने में बेहद हिंसात्मक था। शायद तभी दोनों के बीच दूरियां बढ़ गई।

लेकिन एक दिन उसका एक्स अपनी बेटी को देखने के लिए हमारे घर आया। उसने मेरी गर्लफ्रेंड से कहा कि साथ रहते उनके बीच जो भी कुछ हुआ उसका बेहद अफसोस है।Girlfriend

डिनर कैसा है पुछती थी एक्स गर्लफेंड 

-शुरुआत में वो उसका काम करने की कीमत देता रहा, लेकिन बाद में हमारे परिवार के साथ रोजाना दो- दो घंटे बिताने लगा। वो कहता है कि हम सब उसके सर्किल में है, और मेरी गर्लफेंड पूछती है, ‘ डिनर कैसा है ?

-जवाब में उसका एक्स कहेगा, ‘मीट थोड़ा सख्त है। ये मसालों के साथ बेहतर हो सकता है। ‘ ये कैसा मजाक है। मेरी उम्र 48 साल है और मुझे महसूस होने लगा है कि हमारा रिश्ता खत्म हो गया है।

-मैंने अपनी गर्लफ्रेंड को समझाया कि वो हमें किसी मग की तरह इस्तेमाल कर रहा है, लेकिन वो कहती है कि ये महज मेरी जलन है। इन दिनों ब्लैंडिड फैमिली बड़ी ही साधारण सी बात है, लेकिन एक कपल होने के नाते ये व्यवस्था हमारे रिश्ते और हमारी बेटी के भविष्य के लिए अच्छी नहीं है।

जब पंकज के दिन ठीक नहीं थे, उनकी पत्नी घर चलाती थी, और वो खुद घर पर खाना बनाते थे।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *