संयुक्त परिवार के 22 सदस्यों ने हराया कोरोना को, दादी पोता सब ऐसे हुए स्वस्थ

नई दिल्लीः देश में कोरोना महामारी के हर दिन बढ़ते आंकड़ों से लोग परेशान है, वहीं गुजरात के राजकोट से एक ऐसा परिवार सामने आया है. जिसके 22 सदस्यों ने एक-दूसरे की मदद करके वायरस को मात दी। और अब परिवार के सभी सदस्यों की तबियत ठीक है। इस परिवार में सालभर के पोते से लेकर 68 साल की दादी भी शामिल है।

राहत : रेलवे में कोरोना मरीजों के लिए बने 4000 आइसोलेशन कोच, 146 मरीज भर्ती

15 लोग एक साथ संक्रमित

बता दें की परिवार के एक सदस्य ने बताया कि, 15 दिन में ही परिवार के 15 लोग एक साथ संक्रमित निकले। 68 साल की दादी चंद्रिकाबेन भी महामारी की चपेट में आ गई थी। और, सालभर का पोता दीवाक्ष भी पीड़ित हो गया था। उन्होंने कहा कि, हमारे इतने बड़े परिवार में कुछ सदस्य तो डायबिटीज और अस्थमा से भी पीड़ित थे। मगर, संकट में सभी एक-दूजे का सहारा बने। सभी ने कोरोना नियमों का पालन किया और एक दूसरे से दुरी बनाकर रखी, खानपान पर दिया ध्यान और घरेलू उपायों का भी सहयोग लिया। सबसे अच्छी चीज़ थी सकारात्मकता बनाए रखना।

भारत में पहली बार जानवरों में मिला कोरोना, हैदराबाद के चिड़ियाघर में 8 शेर कोरोना पॉजिटिव

महामारी को दी मात

परिवार के मुखिया के मुताबिक, 22 सदस्यीय वैद्य परिवार के 3 सदस्य कोविड सेंटर ले जाए गए और तीन अन्य किराए का मकान लेकर आइसोलेशन में रहे। बाकी अपने घर पर ही रहकर इलाज करवाते रहे। उन्होंने कहा, “बच्चे की तबियत काफी नाजुक हो गई थी, हालांकि डॉक्टर समेत सभी पूरी तल्लीनता से जुटे थे और अंत में सभी ने महामारी को हरा दिया।”बता दें की ये परिवार अब महामारी से जितने में लोगों को प्रेरणा दे रहा है।

 

 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *