फाइजर की वैक्सीन को मिली मंजूरी, 12-15 साल के बच्चों को भी लगेगा टीका

pfizer-vaccine
pfizer-vaccine

नई दिल्लीः देश में कोरोना टीकाकरण अभियान तेजी से चल रहा है. इस बीच अब 12 से 15 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए फाइजर-बायोएनटेक कोविड-19 वैक्सीन के उपयोग को मंजूरी दे दी है। फाइजर बायोएनटेक के टीके को 27 सदस्य देशों के यूरोपीय संघ में सबसे पहले अनुमति मिली थी और दिसंबर में 16 साल या इससे अधिक उम्र के लोगों को लगाने के लिए लाइसेंस प्रदान किया गया था।

इस पोर्टल पर जारी होगा कोरोना के कारण अनाथ हुए बच्चों का आंकड़ा, जानें

टीके के इस्तेमाल को मंजूरी

EMA के वैक्सीन रणनीति प्रबंधक, मार्को कैवेलरीने कहा कि यूरोपीय संघ के नियामक को बच्चों और किशोरों के लिए टीके के इस्तेमाल को मंजूरी देने के लिए आवश्यक आंकड़े मिले थे और डाटा से पता चलता है कि यह कोविड-19 के खिलाफ अत्यधिक प्रभावी है। उन्होंने कहा कि इस फैसले को यूरोपीय आयोग की मंजूरी मिलने की आवश्यकता है और अलग-अलग देशों के नियामकों को तय करना होगा कि 16 साल से कम उम्र के बच्चों को टीका लगाया जाएगा या नहीं।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ उठाएगा कोरोना में अनाथ हुए बच्चों का दायित्व- विनीत कौशल

12-15 आयुवर्ग

ईएमए ने बताया कि अमेरिका में 2,200 से अधिक किशोरों में एक अध्ययन के आधार पर दिखाया गया कि टीका सुरक्षित और प्रभावी है। परीक्षण से पता चला है कि इस समूह में प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया 16-25 आयु वर्ग में तुलनीय थी। अध्ययन से पता चलता है कि टीका कोविड को रोकने में प्रभावी था। ईएमए ने अपने बयान में कहा, ‘टीका काफी सुरक्षित पाया गया और 12-15 आयुवर्ग में भी टीके के दुष्प्रभाव वैसे ही थे जैसे 16 साल या इससे ज्यादा उम्र के वयस्कों में देखे गए थे और कोई चिंता की बात नहीं है।

 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *