चुनाव आयोग का बड़ा फैसला, 2 मई को होने वाले चुनावी जश्न पर लगाया बैन

चुनाव आयोग
चुनाव आयोग

नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस महामारी से हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं. पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना के 3,23,144 नए मामले सामने आए हैं. वहीं 2771 लोगों ने इस खतरनाक महामारी की चपेट में आकर अपनी जान गंवाई है. इसके अलावा 2,51,827 कोरोना मरीज ठीक भी हुए हैं।

Covid-19 : अब घर के अंदर भी लगाएं मास्क सरकार ने दिए ये नए निर्देश

चुनावी जश्न पर बैन

कोरोना महामारी के इस संकट के बीच चुनाव आयोग ने 2 मई को चुनावी जीत के जश्न और विजयी जुलूस पर पूरी तरह से बैन लगा दिया है. 2 मई को पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, असम, केरल और पुडुचेरी के चुनाव नतीजे घोषित किए जाएंगे. ऐसे में आयोग ने कोरोना संकट को देखते हुए ये प्रतिबंध लगाया है. इसके जुड़ा डिटेल ऑर्डर जल्द ही जारी किया जाएगा।

चुनाव आयोग
चुनाव आयोग

मद्रास हाई कोर्ट

कोरोना की दूसरी लहर के बीच चुनावी रैलियों और रोड शो ना बंद करने को लेकर चुनाव आयोग की काफी आलोचना हुई थी. सोमवार को मद्रास हाई कोर्ट ने भी चुनाव आयोग की जमकर फटकार लगाई थी. मद्रास हाई कोर्ट ने चुनाव आयोग को कोरोना की दूसरी लहर के लिए इकलौता जिम्मेदार बताया।

Coronavirus : मद्रास हाईकोर्ट ने चुनाव आयोग पर कोरोना फ़ैलाने का लगाया आरोप

इसके साथ ही चीफ जस्टिस संजीब बनर्जी ने कहा कि निर्वाचन आयोग के अधिकारियों के खिलाफ हत्या के आरोपों में भी मामला दर्ज किया जा सकता है. अदालत ने कहा कि निर्वाचन आयोग ने राजनीतिक दलों को रैलियां और सभाएं करने की अनुमति देकर महामारी को फैलने के मौका दिया।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *