दिल्ली : अस्पतालों में ऑक्सीजन बेड्स हो रहे खाली, थम रही कोरोना की लहर

नई दिल्लीः दिल्ली में अब कोरोना की रफ़्तार थमती नजर आ रही है. दिल्ली के विभिन्न अस्पतालों में अब करीब 50 फीसदी सामान्य और ऑक्सीजन बैड खाली हैं. 15 फीसदी से ज्यादा आइसीयू बेड खाली हैं. इसका मुख्य कारण कोरोना के नए मामलों की संख्या में लगातार कमी होना है।

मेरठ में जुड़वां भाइयों पर कोरोना का कहर, साथ हुए पैदा और साथ ही हो गई मौत

अस्पतालों में बेड्स खाली

बता दें की दिल्ली कोरोना ऐप के मुताबिक, आज सुबह 9:12 बजे तक कुल 6,763 आइसीयू बेड में से 1170 बेड खाली थे. वहीं कुल ऑक्सीजन बेड 24,453 में से 11,119 बेड खाली थे. सामान्य बेड की बात करें तो विभिन्न अस्पतालों 13,450 खाली हैं. दिल्ली में कई बड़े सरकारी अस्पतालों एम्स, लोकनायक, सफदरजंग, राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल, गुरु तेग बहादुर (जीटीबी) में भी आइसीयू और ऑक्सीजन बेड खाली हैं।

देश में लगातार घट रहे कोरोना मामले, दूसरी लहर से जल्द मिलेगी राहत

पॉजिटिविटी दर में कमी

दिल्ली के निजी अस्पतालों में सरोज, शांति मुकुंद, डिवाइन, मधुकर रेनबो में भी आइसीयू बेड खाली हैं. दरअसल दिल्ली में कोरोना के नए मामले मंगलवार को लगातार दूसरे दिन 5,000 के स्तर से कम रहे. पिछले 24 घंटों में 4,482 मामले दर्ज किए गए, यह 4 अप्रैल के बाद से सबसे कम आंकाड़ा है, जब 4,033 मामले सामने आए थे. राजधानी शहर में भी रोजाना टेस्ट पॉजिटिविटी दर में कमी देखी गई, जो 7 फीसदी से नीचे 6.89 प्रतिशत हो गई।

Leave a comment

Your email address will not be published.