दिल्ली में पानी का संकट, हरियाणा से आरहा है गन्दा पानी, AAP ने उठाया ये कदम

delhi-city-ncr-haryana-is-leaving-dirty-water-for-delhi
delhi-city-ncr-haryana-is-leaving-dirty-water-for-delhi

नई दिल्ली : दिल्ली जल बोर्ड (Delhi Jal Board) के उपाध्यक्ष राघव चड्ढा ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल को पत्र लिखा है। इसमें हरियाणा से यमुना में छोड़े जा रहे दूषित पानी से बढ़ रहे अमोनिया के स्तर का मुद्दा उठाया है। साथ ही कहा कि पानी में अमोनिया की मात्रा बढ़ने की वजह से राजधानी की पेयजल उत्पादन क्षमता प्रभावित हो रही है।

delhi-city-ncr-haryana-is-leaving-dirty-water-for-delhi
delhi-city-ncr-haryana-is-leaving-dirty-water-for-delhi

दिल्ली में पानी का संकट

डीजेबी उपाध्यक्ष ने पत्र में लिखा है कि कच्चे पानी की आपूर्ति के लिए दिल्ली का एक बड़ा हिस्सा यमुना पर निर्भर है। हरियाणा को भौगोलिक स्थिति का लाभ मिल रहा है। वहीं, राजधानी दिल्ली को पिछले कुछ दिनों से पानी की आपूर्ति को लेकर संकट का सामना करना पड़ रहा है।

देश में कोरोना के भयाभव हुए आंकड़े, कब्रिस्तान में शव कर रहे जलने का इन्तजार

आरहा है दूषित पानी

उन्होंने उम्मीद जताई कि कोरोना संकट को देखते हुए मानवीय आधार हरियाणा दिल्ली की समस्या को समझेगा और सहयोग करेगा। दिल्ली पानी को लेकर दोहरी मार का सामना कर रही है। पहला, हरियाणा की तरफ से अत्यधिक प्रदूषित पानी की आपूर्ति हो रही है। दूसरा, पानी की आपूर्ति काफी कम की जा रही है।

सबको पानी का अधिकार

राजधानी दिल्ली के लोगों का साफ पानी पीने का मौलिक अधिकार है, लेकिन इससे दिल्ली के करीब 2.2 करोड़ लोगों का जीवन प्रभावित हो रहा है। इससे हरियाणा के सिंचाई और जल संसाधन विभाग के अधिकारियों की लापरवाही के स्तर का भी पता चलता है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *