ओडिशा तट की ओर बढ़ रहा तूफान ‘यास’, कई राज्यों में ले सकता है गंभीर रूप

नई दिल्लीः चक्रवाती तूफान यास को लेकर उन इलाकों में तैयारियां तेज कर दी गई हैं जहां इसके आने की प्रबल संभावना है। भारत मौसम विभाग ने कहा है कि बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र अब दबाव वाले क्षेत्र में बदल गया है और वह ‘बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान’ के रूप में 26 मई को पश्चिम बंगाल तथा ओडिशा तटों को पार करेगा. दबाव वाले क्षेत्र के सोमवार तक चक्रवाती तूफान ‘‘यास’’ में बदलने की संभावना है।

चक्रवाती तूफ़ान का असर, इन राज्यों में बारिश, ओलावृष्टि के साथ आकाशीय बिजली का खतरा

ओडिशा तट की ओर चक्रवात

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने कहा, पूर्व-मध्य बंगाल की खाड़ी पर डीप डिप्रेशन अगले 24 घंटों के दौरान बहुत तीव्र चक्रवाती तूफान में बदल सकता है. चक्रवात ‘यास’ इस वक्त बालेश्वर से लगभग 650 किलोमीटर दक्षिण दक्षिण पूर्व में है. यह उत्तर दिशा में ओडिशा तट की ओर बढ़ रहा है. 25 मई की सुबह तक तूफान प्रचंड चक्रवाती तूफान में बदल जाएगा. 26 मई की शाम तक बालासोर और मिदिनीपुर पहुंचेगा।

इन राज्यों में तूफ़ान यास का खतरा, जानिए कितना होगा असर, सरकार अलर्ट

प्रति घंटे की रफ्तार

बता दें की आज कुछ जगहों पर 90-110 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलेंगी. कल करीब 130 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलेंगी. इसके बाद 26 मई को हवाएं 180 किमी प्रति घंटे की रफ्तार तक पहुंच सकती हैं. उत्तरी आंध्र, ओडिशा और पश्चिम बंगाल तट अलर्ट पर हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.