Delhi: कोरोना वैक्सीन के नाम पर हो रही ठगी, हो जायें सतर्क

cyber crime on corona vaccine
cyber crime on corona vaccine

नई दिल्लीः देश में कोरोना वैक्सीन तैयार हो चुकी है. वैक्सीन को लोगों तक कैसे पहुँचाना है सरकार ने इसकी तैयारी भी कर ली है. ऐसे में लोग वैक्सीन सबसे पहले अपने और अपने परिवार के लिए चाहते हैं. बस यहीं से साइबर अपराधियों ने लोगों के साथ ठगी का काम शुरू कर दिया है।

cyber crime on corona vaccine
cyber crime on corona vaccine

दरअसल दिल्ली साइबर सेल के डीसीपी अन्येश रॉय ने बताया कि कोरोनो वैक्सीन के नाम पर लोगों के पास ईमेल या मैसेज आ रहे हैं. उस ईमेल या मैसेज में लिखा होता है कि कोरोनो वैक्सीन उपलब्ध है. उसके आगे रुपये भी लिखे होते हैं।

नए- नए तरीके अपना रहे साइबर अपराधी-

डीसीपी के मुताबिक ईमेल और मैसेज में लिखा होता है कि अगर किसी वजह से वैक्सीन नहीं मिल सकी तो पैसे वापस कर दिए जाएंगे. ये शातिर लोग वैक्सीन देने के नाम पर बिटक्वाइन में पैसों की मांग कर रहे हैं. साइबर अपराधियों के पास लोगों को ठगने के लिए सिर्फ यही तरीका नहीं है. इस बार ये लोग कई नए तरीके भी अपना रहे हैं।

कोरोना वैक्सीन के नाम पर फेक कॉल्स-

जानकारी के मुताबिक हैकर्स ने कुछ अलग तरह से लोगों को ठगने का तरीका ढूंढ निकाला है. बता दें की शातिर साइबर अपराधी लोगों को अटैचमेंट भेज रहे हैं. जिसमें कुछ भी जानकारी डाल दी जाती है. और फिर जैसे ही कोई लिंक खोलता है, तो उसका सारा डाटा उनके पास कॉपी हो जाता है. सोशल मीडिया पर  भी वायरल हो रहा है कि, कोरोना वैक्सीन के नाम पर फेक कॉल किए जा रहे हैं।

आप भी हो जाएँ सावधान-

साइबर सेल के डीसीपी रॉय का कहना है कि अगर किसी के पास कोरोना वैक्सीन से जुड़े रजिस्ट्रेशन के लिए फोन आता है, तो सावधान हो जाएं. कहीं भी किसी के कहने पर रजिस्ट्रेशन के नाम पर रुपया ना जमा कराएं. इससे पहले सरकार के नियम और तरीके जरूर जान लें।

यह भी पढ़े-Corona Vaccine Dry Run: पूरे देश में कोरोना वायरस वैक्सीन का ड्राई रन आज से

साइबर एक्सपर्ट पवन दुग्गल ने बताया कि अगर किसी के पास कोई फ़ोन आता है और कोई भी जानकारी मांगी जाए तो बिल्कुल ना दें, उन्होंने हिदायत दी कि किसी अनजान अटैचमेंट को भी न खोलें. ऐसा करने पर आप ठगी का शिकार बन सकते हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.