कोरोना की तीसरी लहर की चिंता, जल्द शुरू होगा बच्चों की कोवैक्सीन का ट्रायल

नई दिल्लीः देश में 2 से 18 साल के लोगों के लिए कोवैक्सीन का 10 से 12 दिनों में ट्रायल शुरू हो जाएगा। भारत बायोटेक और ICMR द्वारा निर्मित कोवैक्सीन को ड्रग कंटोलर जनरल ऑफ इंडिया ने अपने दूसरे और तीसरे चरण के ट्रायल में मंजूरी है.भारत बायोटेक 525 स्वस्थ वॉलंटियर्स पर यह ट्रायल करने वाला है।

दिल्ली : अस्पतालों में ऑक्सीजन बेड्स हो रहे खाली, थम रही कोरोना की लहर

कोरोना की तीसरी लहर

बता दें की मंगलवार को नीति आयोग के सदस्य डॉ वीके पॉल ने यह जानकारी दी है, कोरोना की दूसरी लहर से जूझ रहे भारत में अब तीसरे लहर से बच्चों को बचाने की तैयारी शुरू हो गई है। ऐसा कहा जा रहा है कि इसकी तीसरी लहर में सबसे अधिक बच्चे प्रभावित होंगे। यह चिंता इसलिए भी बढ़ जाती है, क्योंकि बच्चों के लिए देश में अब तक एक भी वैक्सीन नहीं है।

देश में लगातार घट रहे कोरोना मामले, दूसरी लहर से जल्द मिलेगी राहत

भारत बायोटेक

दरअसल कुछ दिन पहले विशेषज्ञ समिति ने 2 से 18 आयुवर्ग के लिए भारत बायोटेक के कोविड-19 टीके कोवैक्सीन के दूसरे/तीसरे चरण के लिए क्लीनिकल टेस्ट की सिफारिश की थी। बताया जा रहा है कि यह परीक्षण दिल्ली एवं पटना के एम्स और नागपुर स्थित मेडिट्रिना चिकित्सा विज्ञान संस्थान समेत विभिन्न स्थानों पर किया जाएगा। भारत बायोटेक 525 स्वस्थ वॉलंटियर्स के साथ यह परीक्षण करेगा।

 

Leave a comment

Your email address will not be published.