Corona Vaccine Third Phase अबकी बार 45 पार, कोरोना वैक्सीन के लिए तैयार

AIIMS
Corona Broken Own Records

नई दिल्ली: Corona Vaccine Second Phase: देश में बढ़ते कोरोना मामले को देखते हुए सरकार भी सजग है। आज यानी एक अप्रैल 2021 से कोई भी आम भारतीय नागरिक जिसकी आयु 45 वर्ष से अधिक है वह कोरोना टीकाकरण करा सकता है। अब से पहले सिर्फ उन्हीं नागरिकों का टीकाकरण किया जा रहा था, जिनकी आयु 45 से अधिक हो साथ ही जो पहले से किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित रहे हों। गौरतलब है कि देश में कोविड-19 के खतरे से निपटने के लिए भारत सरकार अधिक से अधिक नागरिकों में टीकाकरण का कार्य संपन्न कराना चाहती है। इसी उद्देश्य से केंद्रीय सरकार की नई पहल के तहत अब कोई भी आम व स्वस्थ भारतीय नागरिक भी टीकाकरण करा सकता है।

Corona Vaccine Third Phase: तीसरा चरण आज से शुरू

कोरोना वायरस के बचाव के लिए दिल्ली सहित पूरे देश में टीकाकरण का तीसरा चरण आज से शुरू हो रहा है। इसके तहत करीब 500 केंद्रों पर 45 और उससे अधिक वर्ष की आयु के लोगों को भी टीके लगाए जाएंगे। दिल्ली की बात करें तो यहां इस आयु वर्ग के करीब 65 लाख लोग हैं जिन्हें तीसरे चरण में वैक्सीन लगनी शुरू हो जाएगी। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार दिल्ली में करीब 25 से 30 फीसदी आबादी को इसी चरण में वैक्सीन दिया जा सकेगा। 16 जनवरी से शुरू होने वाले पहले चरण में दिल्ली में 3.6 लाख से अधिक स्वास्थ्य कर्मचारी और फ्रंटलाइन वर्करों को वैक्सीन दिया गया।

इसके बाद बीते एक मार्च से शुरू हुए दूसरे चरण के तहत 60 और उससे अधिक आयु के बुजुर्गों के अलावा 45 से 59 आयु वर्ग के लोगों को कॉम्बिडिटी के साथ वैक्सीन दिया गया। अब तीसरे चरण में जिस व्यक्ति की आयु 1 जनवरी, 2022 तक 45 वर्ष या उससे अधिक होगी।

बिना पंजीकरण ऐसे लगवांए टीका

सुबह 9 से रात 9 बजे तक संचालित केंद्रों पर पंजीकृत लाभार्थियों को दोपहर 3 बजे तक वैक्सीन दिया जाएगा। इसके बाद गैर पंजीकृत व्यक्ति रात 9 बजे तक वैक्सीन ले सकते हैं। उन्हें बस अपना आधार कार्ड या कोई अन्य वैध पहचान प्रमाण ले जाने की जरूरत होगी। अधिकारियों ने बताया कि तीसरे चरण के पहले दिन बृहस्पतिवार को राजधानी के 136 निजी अस्पतालों सहित 192 स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार किया गया है। सरकारी अस्पतालों और स्वास्थ्य केंद्रों पर टीके मुफ्त लगाए जाएंगे, जबकि 250 रुपये तक की खुराक निजी स्वास्थ्य सुविधाओं पर ली जाएगी।

टीकाकरण के लिए नियुक्ति को-विन 2.0 पोर्टल के माध्यम से बुक किया जा सकता है। चार से अधिक पंजीकरण करने के लिए एक मोबाइल नंबर का उपयोग नहीं किया जा सकता है। अधिकारियों ने कहा कि निजी अस्पतालों में टीकाकरण के लिए आने वाले लोगों को प्रति खुराक 250 रुपये का शुल्क देना होगा, जिसमें 100 रुपये प्रति सेवा शुल्क भी शामिल है।

33 अस्पतालों में 220 आईसीयू बिस्तर आरक्षित

राजधानी में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ने से चिकित्सीय सेवाओं पर फिर से असर पड़ सकता है। संक्रमित मरीजों को समय पर उपचार दिलाने के लिए सरकार ने अस्पतालों में बिस्तरों को आरक्षित करना शुरू कर दिया है। बुधवार को स्वास्थ्य विभाग ने 33 प्राइवेट अस्पतालों में 220 आईसीयू बेड कोरोना मरीजों के लिए आरक्षित किए।

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, बुधवार को दिल्ली के 16 निजी अस्पताल पहले ही कोरोना मरीजों के लिए वेंटिलेटर के साथ आईसीयू बेड से भर चुके हैं। इसके अलावा सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों को मिलाकर 787 में से 298 वेंटिलेटर भर चुके हैं। 1229 में से 393 आईसीयू बेड भी फुल हो चुके हैं। हालांकि, स्वास्थ्य मंत्री का कहना है कि अभी स्थिति नियंत्रण में है। सरकारी और निजी अस्पतालों में संक्रमितों के लिए केवल 25 फीसदी बिस्तर आरक्षित किए हैं। कुछ निजी अस्पतालों में सभी आईसीयू बेड भरे हुए हैं।

आइपीएल की आठों फ्रेंचाइजियों का कप्तान कौन है और किस कप्तान को कितना अनुभव है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *