त्योंहारी सीजन में लौटा कोरोना,कहीं कर्फ्यू तो कहीं लगा लॉकडाउन

Lockdown 2021 Guidelines

नई दिल्ली: एक तरफ केरोना का खतरा बढ़ता ही जा रहा है। दुसरी ओर पाबंदियों का दौर शुरु हो गया है। भारत के कई राज्य महाराष्ट्र्र ,गुजरात,पंजाब, कर्नाटक और छत्तीसगढ़ ने केंद्र और राज्य सरकारों की चिंता बढ़ा दी है। इन्हीं राज्यों में 80 फीसद से ज्यादा केस सामने आए हैं। वहीं, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु और दिल्ली में भी मामले तेजी से बढ़ना शुरु रहा हैं। नए केस तेजी से बढ़ते देख नए मामलों को देखते हुए राज्य सरकारों ने सख्ती बरतनी शुरू कर दी है।

lockdown

Bengal Update: AIMIM के बंगाल प्रमुख ने दिया इस्तीफा, दीदी का देगें साथ

महाराष्ट्र सरकार ने कोरोना की नई गाइडलांस को 31 मार्च तक बढ़ाया

पंजाब सरकार ने स्कूलों को 31 मार्च तक बंद रखने का फैसला किया है। साथ ही साथ 11 जिलों में नाइट कर्फ्यू लगाया गया है। मध्‍य प्रदेश सरकार ने भोपाल, इंदौर और जबलपुर में लॉकडाउन लगाने का आदेश दिया है। वहीं, केंद्र सरकार ने राज्यों को ‘टेस्ट, ट्रैक और ट्रीट’ की रणनीति को अपनाने की सलाह दी गई है। देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना महामारी के 40 हजार से अधिक नए मामले आने के बाद कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 1.15 करोड़ हो गई है और अब तक 1,59,558 लोगों की जान जा चुकी है।

लॉकडाउन ही एक विकल्प है

कोरोना से बेहाल महाराष्ट्र ने नई कोरोना गाइडलाइंस को 31 मार्च तक के लिए बढ़ा दिया है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा है कि अगर हालात काबू में नहीं हुए तो लॉकडाउन ही एक विकल्प है। इस बीच, राज्य सरकार ने थियेटर और ऑडिटोरियम को 31 मार्च तक 50 फीसद क्षमता से चलाने का आदेश दिया है। इस संबंध में शुक्रवार को जारी अधिसूचना में स्वास्थ्य सेवाओं और अन्य आवश्यक सेवाओं को छोड़कर निजी क्षेत्र के दफ्तरों को भी कर्मचारियों की 50 फीसद क्षमता के साथ काम करने को कहा गया है। जबकि, सरकारी और अर्धसरकारी दफ्तरों के लिए वहां के हेड को कर्मचारियों की संख्या को निर्धारित करने का अधिकार दिया गया है।

मध्य प्रदेश के कई शहरों में 32 घंटे का लॉकडाउन

वहीं मध्य प्रदेश सरकर ने भोपाल, इंदौर और जबलपुर में शनिवार रात 10 बजे से सोमवार सुबह छह बजे तक यानी कुल 32 घंटे का लॉकडाउन लगाने का ऐलान किया गया है। 31 मार्च तक इन तीन शहरों में भी स्कूल-कॉलेज बंद रहेंगे। इस दौरान आवश्यक सेवाएं और उद्योग चालू रहेंगे। बिना अनुमति सामाजिक समारोह भी नहीं आयोजित किए जाएंगे। कोरोना संक्रमण के कारण ज्योतिर्लिग महाकाल मंदिर में दर्शन व्यवस्था में भी बदलाव हुआ है। इसके तहत रात नौ बजे से पहले सभी दर्शनार्थियों को मंदिर परिसर से बाहर आना होगा। श्रद्धालु शयन आरती दर्शन नहीं कर सकेंगे।

Corona Cases | New Corona Cases | Corona Lockdown | MP Lockdown | Corona second Wave |

 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *