भारत कोरोना की वैक्सीन पर सियासी बवाल- ट्रायल पूरा नहीं तो इजाजत क्यों?

Congress on Corona Vaccine
Congress on Corona Vaccine

नई दिल्ली: भारत बायोटेक की कोरोना वैक्सीन को DCGI से इस्तेमाल की अनुमति मिलने के साथ ही राजनीतिक विवाद शुरू हो गया है. कांग्रेस के दो बड़े नेताओं शशि थरूर और जयराम रमेश ने भारत बायोटेक की वैक्सीन कोवैक्सीन को ग्रीन सिग्नल देने पर चिंता जाहिर की है।

Congress on Corona Vaccine
Congress on Corona Vaccine

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर ने ट्वीट किया है, “कोवैक्सिन ने अभी तक फेज-3 का ट्रायल पूरा नहीं किया है. इस्तेमाल की स्वीकृति समय से पहले दी गई है जो खतरनाक हो सकती है. @drharshvardhan जी कृपया स्थिति स्पष्ट करें. जब तक इसका ट्रायल पूरा नहीं हो जाता, इसके उपयोग से बचा जाना चाहिए. इस बीच भारत टीकाकरण अभियान की शुरुआत एस्ट्राजेनेका वैक्सीन के साथ शुरू कर सकता है।

शशि थरूर के बाद कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने भी यही सवाल उठाया है. जयराम रमेश ने कहा है कि भारत बायोटेक नयी कंपनी है, लेकिन ये आश्चर्यजनक है कि कोवैक्सीन के लिए फेज थ्री से जुड़े प्रोटोकॉल को मोडिफाई किया जा रहा है. इस बारे में स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन को सफाई देनी चाहिए।

बता दें कि दो दिन पहले ही सब्जेक्ट एक्सपर्ट कमेटी ने सीरम इन्स्टीट्यूट ऑफ इंडिया और ऑक्सफोर्ड द्वारा विकसित वैक्सीन कोविशील्ड को अंतिम मंजूरी देने की सिफारिश ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) को भेजी थी. इसके बाद कल भारत बायोटेक और ICMR द्वारा विकसित कोवैक्सीन की भी सिफारिश की थी. इन दोनों वैक्सीन के आपातकालीन इस्तेमाल की इजाजत आज ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने दे दी।

 

Leave a comment

Your email address will not be published.