गायब बच्चों को पता है माँ के ब्रेन डैड होने का राज, करोड़ों रूपये के लालच की है ये कहानी

brain dead tanvi is in ganga ram hospital
brain dead tanvi is in ganga ram hospital

नई दिल्ली : तनवी के मामा विनोद का आरोप है कि उसकी ससुराल वालों ने उसकी यह हालत की है. दिल्ली पुलिस इस मामले की जांच कर रही है. 5 दिन से तनवी नाम की यह महिला गंगाराम अस्पताल में भर्ती है. कुछ दिन वेंटीलेटर पर इलाज करने के बाद अब डॉक्टरों ने तनवी को ब्रेन डैड घोषित कर दिया है. तनवी के पिता और मामा अब हर पल इस डर के साए में हैं कि पता नहीं कब अस्पताल वाले तनवी को घर ले जाने के लिए बोल दें.

brain dead tanvi is in ganga ram hospital
brain dead tanvi is in ganga ram hospital

बच्चों का नहीं है पता है पता-

तनवी की 8 साल की मायरा और 7 साल के आहान का भी कोई पता नहीं है. तनवी की यह हालत कैसे हुई यह भी घर वालों को नहीं पता. मां इस हालत में कैसे पहुंची यह सिर्फ बच्चे ही बता सकते हैं, लेकिन वो भी गायब हैं.

पति और ससुर हैं इस पोस्ट पर-

तनवी के मामा विनोद ने बताया, “तनवी का पति एमसीडी में इंजीनियर है. ससुर भी एमसीडी से बड़े पद से रिटायर हैं. वहीं तनवी की एक ननद दिल्ली में ही जज है. 26 दिसम्बर को इस घटना के बाद महिला आयोग के दखल देने के बाद यह एफआईआर दर्ज हुई थी.

ससुराल वालों ने 2 करोड़ की डिमांड-

तनवी के ससुराल वालों ने कहा कि आपके कोई बेटा तो है नहीं, फिर यह सब कहां ले जाओगे. इसे बेटी के नाम ही कर दो.” थाना रूपनगर में तनवी के पिता विशम्भर दयाल ने एफआईआर दर्ज कराई है. पिता का आरोप है, “तनवी की ससुराल वाले 2 करोड़ रुपये की डिमांड कर रहे थे. छोटी-छोटी डिमांड तो मैं पहले पूरी करता रहा हूं. लेकिन दो करोड़ जैसी बड़ी रकम कहां से देता तो मैंने मना कर दिया.

Leave a comment

Your email address will not be published.