आतंकी संगठन बोकोहरम ने किया 300 बच्चियों को अगवा

boko-haram-kidnapped-300-nigerian-students
boko-haram-kidnapped-300-nigerian-students

 

नई दिल्ली : नाइजीरिया से एक दिल दहला देने वाली खबर ने सभी का दिल दहला दिया है ।जिसनें 6 साल पहले हुई एक पुरानी वारदात काे ताजा कर दिया है। जहां बोको हराम ने एक स्कूल से 300 लड़कियों को उठा लिया था जिसका अब तक कोई सुराग नहीं मिला पाया. इससे पहले बाेकाे हराम नें पहले 110 लाेगाे के सिर भी काटे थे.

boko-haram-kidnapped-300-nigerian-students
boko-haram-kidnapped-300-nigerian-students

बता दें कि नाइजीरिया के आतंकवादी संगठन बोको हराम ने एक बार फिर से तबाही मचा रखी है. बम धमाकों, हत्याओं और अपहरणों से कोहराम मचाया हुआ है करीब 2 हफ्ते पहले आतंकवादी संगठन बोको हराम ने 110 लोगों का एक साथ सिर कलम कर लाेगाे के दिलाें में दहशत का माहाैल पैदा कर दिया है। घटना चिबोक इलाके कि है, जहां  बोको हराम नें स्कूल पर हमला बोलकर वहां से 333 छात्रों को अगवा कर लिया है. छात्राें काे अगवा करने कि वजह का पता नहीं चल पाया है।

आखिर काैन है बाेकाे हराम-

पाकिस्तान के I.S.I की तरह ही बोको हराम नाइजीरिया का एक आतंकी संगठन है. ऐसा कहा जाता है कि बाेकाे हराम  एक खाैफनाक संगठन है। इस सगंठन ने नाईजीरिया से लेकर कई देशों में मजहब के नाम पर तबाही मचा रखी है. कहीं न कहीं वह बच्चाें काे अगवा कर यह साबित चाहता है कि इस्लाम में पश्चिमी शिक्षा पूरी तरह से हराम है। बता दें की बाेकाे हराम का पूरा नाम – जमात- ए-हलअस-सुन्ना लिद-दावा वल-जिहाद. जिसका मतलब ‘पैगंबर की शिक्षाओं और जिहाद के प्रसार के लिए प्रतिबद्ध लोग.’ हाेता है।

कैसे पड़ा इस संगठन का नाम बाेकाे हराम-

बोको हराम का मतलब , ‘पश्चिमी शिक्षा हराम है’ नाइजीरिया के शहर मैदुगुरी में इसे बोको हराम कहा जाता है।बाेकाे हराम नाइजीरिया सरकार को उखाड़कर इस्लामिक स्टेट की हुकूमत कायम करना चाहता है.

क्या है पूरी वारदात-

बाइक पर सवार होकर बोको हराम के सैकड़ों हथियारबंद आतंकियों ने काटसिना के गवर्नमेंट साइंस सेकेंडरी स्कूल में बच्चों को अगवा कर लिया जिसके बाद  संगठन के मुखिया अबू बकर शेकाऊ ने एक वॉयस मैसेज जारी कर इस अपहरण की जिम्मेदारी ली.

बच्चाे के अपहरण की खबर मिलते ही  प्रशासन  सख्ते में आ गया. खबर मिलते ही अभिभावकों ने सरकार से अपने बच्चों को छुड़ाने की अपील की. नाईजीरिया सरकार ने अपनी सेना को बच्चों को आतंकियों के कब्जे से छुड़ाने के लिए अभियान में उतार दिया है. लेकिन अभी तक बच्चाें का पता नही लग पाया है।खबरे है की बाेकाे हराम नें बच्चों को अगवा कर पास के जंगली इलाकों में छुपा रखा है. ऐसा कहा जाता है कि बोको हराम अपने कब्जे में आए लोगों से मजदूरी करवाता है. बोको हराम ड्रग्स का कारोबार भी करता है जिसमें अगवा किए गए स्कूली बच्चों और खास कर लड़कियों का इस्तेमाल किया जाता है . लड़कियों को उनकी बीवी और कई बार सेक्स स्लेव से लेकर फिदायीन हमलावर तक बनने के लिए मजबूर किया जाता है. जबकि लड़कों को हथियार थमा कर लड़ाका बना दिया जाता है,

 

 

Leave a comment

Your email address will not be published.