किसान नेता राकेश टिकैत पर लगा जमीन कब्जाने का आरोप

rakesh tikait
rakesh tikait

नई दिल्लीः कृषि कानूनों का विरोध करने के अलावा राकेश टिकैत का एक और चेहरा सामने आया है.जिसमें राकेश टिकैत और उसके पुत्र पर एक किसान की लाखों की जमीन पर कब्जा करते हुए उसकी फसल को भी तहस-नहस करने का आरोप लगा है। मुजफ्फरनगर के शाहपुर के गांव किनौनी निवासी महिला ने भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता चौ. राकेश टिकैत व उनके पुत्र चरण सिंह टिकैत पर तीन बीघा जमीन कब्जाने का आरोप लगाया है।

देश में कोरोना के नए मामलों में भारी गिरावट, यहां जानें ताजा आंकड़े

टिकैत पर जमीन कब्जाने का आरोप

आपको बता दें की सुशीला देवी और उनके पुत्र विनीत बालियान ने बताया कि उनकी करीब तीन बीघा जमीन रेलवे प्रोजेक्ट के लिए अधिग्रहीत की गई थी। इसका मुआवजा नहीं मिल पाया। आरोप लगाया कि भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता चौ. राकेश टिकैत और उनके पुत्र चरण सिंह टिकैत ने उक्त जमीन को कब्जा लिया। इस बारे में अधिकारियों से शिकायत की गई, लेकिन कोई समाधान नहीं हुआ।

चीन ने वुहान लैब में बनाया कोरोना वायरस, एक बार फिर हुआ साबित

महिला ने सीएम योगी को भेजा पत्र

महिला ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र भेजा है। वह मुआवजे को लेकर प्रशासन से गुहार लगा चुकी है। मुख्यमंत्री को भेजे शिकायती पत्र में कहा कि पति नरेंद्र बीमार चल रहे हैं, जिसके चलते उनकी जमीन पर कब्जा कर लिया गया। मामले में अधिकारी दबाव में है। जमीन कब्जाकर मिट्टी डाल दी है। मांग की कि उक्त जमीन को कब्जामुक्त कराया जाए और रेलवे से मुआवजा दिलाया जाए।

 

Leave a comment

Your email address will not be published.