जाट बहुल गांव में नहीं घुसने दिया भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान को

bjp-leaders-were-not-allowed-to-enter-the-village
bjp-leaders-were-not-allowed-to-enter-the-village

नई दिल्ली : कृषि कानून को लेकर केन्द्र सरकार की मुश्किलें कम नहीं हो रहीं हैं. भाजपा के कई नेता और कैबिनेट मंत्री संजीव बालियान खाप चौधरियों से मिलने उनके गांव पहुंच रहे हैं, लेकिन उनका कई जगह विरोध शुरू हो गया है. किसान आंदोलन समर्थक ग्रामीणों ने भाजपा नेताओं को गांव में घुसने से रोक दिया. मुर्दाबाद के नारे लगाए. इस पर मंत्री संजीव बालियान ने कहा कि दस किसानों के मुर्दाबाद बोलने से मैं मुर्दाबाद नहीं हो जाऊंगा. इस पर गांव के लोग भड़क गए.

bjp-leaders-were-not-allowed-to-enter-the-village
bjp-leaders-were-not-allowed-to-enter-the-village

जमकर नारेबाजी के बीच भाजपा नेताओं को अपना काफिला वापस शामली की ओर मोड़ना पड़ा. जमीनी स्तर पर हो रहे इस विरोध ने भाजपा की चिंता बढ़ा दी है।

ग्रामीण कर रहे हैं नेताओं का विरोध

गौरतलब है कि केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह के निर्देश पर शामली जनपद में बीजेपी के कई बड़े नेता सुबह से भ्रमण कर रहे हैं. शामली के कई गांवो में जाकर खाप चौधरियों से मुलाकात कर रहे हैं. कैबिनेट राज्यमंत्री संजीव बालियान व पंचायत राज मंत्री भूपेंद्र चौधरी सहित शामली सदर विधायक व कई बड़े नेता इसमें शामिल हैं. कई जगह नेताओं को ग्रामीणों का विरोध भी झेलना पड़ रहा है. भैंसवाल के किसान नेताओं ने कड़ा विरोध करते हुए जमकर नारेबाजी की है.

वापस लौटे संजीव बालियान

बीजेपी नेताओं की टीम आदर्शमंडी थाना क्षेत्र के गांव भैंसवाल में पहुंची थी, जहां पर पहले ग्रामीणों ने मैन रोड पर ट्रैक्टर ट्राली खड़ा कर नेताओं को गांव में नहीं घुसने दिया. जैसे-तैसे कर नेता गांव में चले गए तो वहां पर मौजूद किसानों ने मुर्दाबाद के नारे लगाने शुरू कर दिए. बीजेपी नेताओं के खिलाफ जमकर हंगामा खड़ा कर दिया. विरोध बढ़ने पर मंत्री संजीव बालियान वहां से काफिले के साथ वापस लौटने लगे.

Leave a comment

Your email address will not be published.