भाजपा प्रत्याशी श्रीचंद शर्मा जीते, जानिए कैसे तोडा 48 साल का रिकॉर्ड

bjp candidate shrichand sharma
bjp candidate shrichand sharma

दिल्ली: भाजपा प्रत्याशी श्रीचंद शर्मा ने जीत हासिल कर पूरे 48 साल से कायम रिकॉर्ड को तोड़ दिया है। वहीं जीत के बाद अपर आयुक्त रजनीश राय ने मेरठ खंड शिक्षक निर्वाचन के निर्वाचित घोषित श्रीचंद शर्मा को प्रमाण पत्र दे दिया है। मतगणना स्थल पर सुरक्षा को लेकर कड़े इंतजाम किए गए हैं। दोपहर में मंडलायुक्त अनीता सी. मेश्राम और आईजी रेंज प्रवीण कुमार ने मतगणना स्थल का जायजा लिया और आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उनके अलावा जिलाधिकारी के. बालाजी, एसएसपी अजय साहनी, एडीएम सिटी अजय तिवारी, एडीएम वित्त एवं राजस्व सुभाष चंद प्रजापति, एसपी ट्रैफिक जितेंद्र कुमार श्रीवास्तव भी मतगणना स्थल पर मौजूद रहे।

bjp candidate shrichand sharma
bjp candidate shrichand sharma

मेरठ-सहारनपुर शिक्षक खंड के विधान परिषद सदस्य के लिए प्रथम वरीयता की मतगणना में भाजपा प्रत्याशी श्रीचंद शर्मा ने 7,186 वोट प्राप्त कर माध्यमिक शिक्षक संघ (शर्मा गुट) के ओम प्रकाश शर्मा से 4,232 वोटों की निर्णायक बढ़त बनाई। इसके बाद दूसरी वरीयता की मतगणना शुरू हो गई है। प्रकाश शर्मा 48 साल से लगातार विधान परिषद के सदस्य रहे हैं। स्नातक खंड की मतगणना गुरुवार रात तक शुरू नहीं हो पाई। मतपत्र खोलने का काम चल रहा था।

शिक्षक सीट पर भाजपा की जीत तय हो चुकी है। यदि दूसरी वरीयता में भाजपा प्रत्याशी निर्धारित पचास प्रतिशत और उससे एक वोट ज्यादा नहीं भी ले पाते हैं तो सर्वाधिक वोट पाने पर उन्हें विजयी घोषित कर दिया जाएगा। प्रथम वरीयता की मतगणना में कुल मतदान 19,217 में से भाजपा प्रत्याशी ने 7,186 वोट प्राप्त किए, जबकि माध्यमिक शिक्षक संघ के ओम प्रकाश शर्मा ने 2954, माघ्यमिक शिक्षक संघ (ठकुराई गुट) के डॉ. उमेश त्यागी ने 1,962 वोट प्राप्त किए। 1,121 वोट निरस्त हो गए।

bjp candidate shrichand sharma
bjp candidate shrichand sharma

अब दूसरी वरीयता की मतगणना में भाजपा प्रत्याशी को 9,049 वोट प्राप्त करने होंगे, लेकिन यदि इसे प्राप्त नहीं कर पाते हैं तो भी उनकी जीत तय है, क्योंकि वह अपने निकटतम प्रत्याशियों से बहुत आगे निकल चुके हैं। ऐसे में भाजपा प्रत्याशी की जीत तय हो चुकी है, लेकिन नियमानुसार दूसरी वरीयता की मतगणना की जा रही है।

फर्जी मतदान का लगाया आरोप-

मतगणना के बाद समाजवादी पार्टी के साथ मिलकर अन्य प्रत्याशियों के समर्थकों ने फर्जी वोट बनवाने और सत्ता पक्ष के दबाव में चुनाव कराने का आरोप लगाते हुए हंगामा किया। वहीं शिक्षक संघ शर्मा गुट के अध्यक्ष और वर्तमान शिक्षक एमएलसी ओमप्रकाश शर्मा ने मतगणना के बाद कहा कि फर्जी वोट और फर्जी मतदान के जरिये भाजपा ने यह चुनाव जीता है।

Leave a comment

Your email address will not be published.