असम चुनाव में बीजेपी नेता की गाड़ी में मिली EVM, चार अफसर सस्पेंड

assam-vidhan-sabha-assam-election-commission-further-investigations-in-evm-case-tell-the-truth-said-evm-seal-not-broken 67396
assam-vidhan-sabha-assam-election-commission-further-investigations-in-evm-case-tell-the-truth-said-evm-seal-not-broken 67396

नई दिल्ली : असम में ईवीएम मामले में चुनाव आयोग ने बड़ी अनुशासनात्मक कार्रवाई की है। समाचार एजेंसी एएनआइ ने चुनाव आयोग के सूत्रों के हवाले से जानकारी दी है कि भारत निर्वाचन आयोग (ईसीआई) के चार अधिकारियों को असम ईवीएम मामले में सस्पेंड कर दिया है। चुनाव आयोग ने बताया कि परिवहन प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने के लिए पीठासीन अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। साथ ही पीओ और तीन अन्य अधिकारियों को निलंबित किया गया है।

assam-vidhan-sabha-assam-election-commission-further-investigations-in-evm-case-tell-the-truth-said-evm-seal-not-broken 67396
assam-vidhan-sabha-assam-election-commission-further-investigations-in-evm-case-tell-the-truth-said-evm-seal-not-broken 67396

हालांकि, ईवीएम की सील बंद मिली, लेकिन LAC 1 रतबाड़ी(एससी) के इंदिरा एमवी स्कूल, संख्या 149 पर दोबारा मतदान कराने का फैसला किया गया है।

Corona Holi: होली पर कोरोना का साया, इन छह राज्यों में डराने वाले आंकड़े

सस्पेंड किये 3 अधिकारी

चुनाव आयोग ने असम में EVM से जुड़ी घटना पर तथ्यात्मक रिपोर्ट जारी की है। चुनाव आयोग की रिपोर्ट में बताया गया है कि पोलिंग पार्टी 149-इंदिरा एमवी स्कूल ऑफ एलएसी 1 रतबारी (SC) का रास्त में एक्सीडेंट हो गया था। उस पोलिंग पार्टी में एक पीठासीन अधिकारी और 3 मतदान कर्मी शामिल थे। उनके साथ एक कांस्टेबल और एक होमगार्ड शामिल पुलिस कर्मी भी थे।

भीड़ हुई हिंसात्मक

इससे पहले असम में भाजपा उम्मीदवार की कार में ईवीएम मिलने के मामले में चुनाव आयोग ने जांच शुरू की। चुनाव आयोग (Election Commission ) को भाजपा विधायक की गाड़ी में ईवीएम मिले जाने की अब तक जो रिपोर्ट आई है, उसके मुताबिक असम में पोलिंग पार्टी की गाड़ी खराब हो गई थी जिसके बाद पीठासीन अधिकारी ने भाजपा विधायक की गाड़ी में लिफ्ट लेने की बात कही है। चुनाव आयोग के सूत्रों के मुताबिक, लिफ्ट लेकर जब भाजपा विधायक की गाड़ी से पोलिंग पार्टी लौट रही थी तभी स्थानीय लोगों ने देख लिया और गाड़ी रोक दिया। पोलिंग पार्टी के सदस्यों को स्थानीय लोगों ने गाड़ी से निकाल दिया और भीड़ हिंसात्मक भी होने लगी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *