CM केजरीवाल का बड़ा बयान: कहा 5000 हेल्थ अस्टिटेंट को दी जाएगी मरीजों की देखभाल की ट्रेनिंग

16 June Press Confrence
16 June Press Confrence

नई दिल्ली: ज्यादातर राज्यों ने जानलेवा कोरोना वायरस की संभावित तीसरी लहर से निपटने की तैयारी शुरू कर दी है। इसी के चलते दिल्ली सरकार भी पिछले करीब एक महीने से तीसरी लहर से निपटने की तैयारी कर रही है। आज दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके जानकारी दी है कि दिल्ली में सरकार ने 5000 हेल्थ अस्टिटेंट तैयार करने की एक बहुत महत्त्वाकांक्षी योजना बनाई है।

यह भी पढ़े- कोरोना की तीसरी लहर से चार चरणों की तैयारी द्वारा लड़ेंगे- योगी

 5000 युवाओं को 2-2 हफ़्ते की ट्रेनिंग 

CM Kejriwal ने कहा है, ‘’दिल्ली में कोरोना मरीजों की देखभाल करने के लिए 5000 युवाओं को 2-2 हफ़्ते की ट्रेनिंग दी जाएगी। वहीं युवाओं को ये मेडिकल ट्रेनिंग आईपी यूनिवर्सिटी दिलवाएगी। साथ ही सभी युवाओं को दिल्ली के 9 बड़े मेडिकल इंस्टीट्यूट में बेसिक ट्रेनिंग की सुविधा भी मिलेगी।’’

Arvind kejriwal Press-Confrence
Arvind kejriwal Press-Conference

केजरीवाल ने आगे बताया कि इन युवाओं की ट्रेनिंग होने के बाद स्वास्थ्य सुविधाओं पर खासा जोर रहेगा। इन युवाओं को कोरोना मरीजों को मास्क लगाना, उन्हें ऑक्सीजन लगाना और सैनेटाइज करने जैसे बेसिक कामों की ट्रेनिंग दी जाएगी और इन लोगों को दिल्ली के अलग अलग अस्पतालों मे जरूरत के हिसाब से भेजा जाएगा.’’

CM Kejriwal- 12वीं पास भी कर सकते है आवेदन

CM Kejriwal ने कहा, ”ये 5000 हेल्थ अस्टिटेंट डॉक्टरों और नर्स के अस्टिटेंट के रूप में काम करेंगे। जिसका 17 जून से इसके लिए ऑनलाइन आवेदन भी किया जा सकता है, और 28 जून से इनकी ट्रेनिंग शुरू होगी। इसके लिए 12वीं कक्षा का पास होना अनिवार्य हैं।”