हरियाणा सरकार का फैसला : अब सभी मेडिकल कॉलेजों में होगा ब्लैक फंगस का इलाज

नई दिल्लीः हरियाणा में ब्लैक फंगस के बढ़ते मामलों को लेकर राज्य सरकार ने प्रदेश के सभी मेडिकल कालेजों को इसके इलाज के लिए अधिकृत कर दिया है। अब हरियाणा में ब्लैक फंगस बीमारी से ग्रस्त मरीज पीजीआई रोहतक के साथ ही प्रदेश के किसी भी मेडिकल कॉलेज में अपना इलाज करवा सकेंगे।

देश में कम हो रही है कोरोना की संक्रमण दर, जिलेवार स्थिति जानिए

मेडिकल कॉलेज में इलाज

बता दें की प्रदेश के 4 मेडिकल कॉलेज ही ब्लैक फंगस के इलाज के लिए अधिकृत थे। और अब इनकी संख्या 12 हो गई है। इनमें निजी मेडिकल कॉलेज भी शामिल हैं। साथ ही, इस बीमारी के इलाज के लिए जरूरी इंजेक्शन एम्फोटेिरसिन-बी हासिल करने की प्रक्रिया भी निर्धारित कर दी है। उम्मीद है कि जल्द ही इंजेक्शन आ जाएंगे।

Report : कोरोना भी नहीं रोक पा रहा उभरती नई महाशक्ति भारत को

प्रदेश में बढ़ते मामले

दरअसल रोहतक पीजीआई में ब्लैक फंगस के 63 से अधिक मरीज दाखिल हैं, जबकि रोजाना नए केस भी यहां पर अन्य जिलों से रेफर किए जा रहे हैं। इसके चलते, कई स्थानों पर तो नए मरीजों को दाखिल करने में भी परेशानी आने लगी थी। इसी के चलते सरकार ने ब्लैक फंगस के इलाज के अन्य मेडिकल कॉलेजों में इसकी व्यवस्था की है। साथ ही अलग अलग जिलों को एक एक मेडिकल कॉलेज के साथ जोड़ा गया है।

Leave a comment

Your email address will not be published.