सैफ अली खान की ‘तांडव’ से मचा बवाल, बीजेपी नेताओं ने बोला हमला

तांडव
तांडव

नई दिल्ली : सैफ अली खान और डिंपल कपाड़िया की वेब सीरीज ‘तांडव’ शुक्रवार को रिलीज हुई। इसके साथ ही सीरीज को लेकर अब विवाद भी शुरू हो गया है। फिल्म अभिनेता सैफ अली खान पर निशाना साधते हुए बीजेपी के विधायक राम कदम ने कहा है कि वो एक बार फिर से उस वेब सीरीज का हिस्सा बने हैं, जिसमें हिंदू भावनाओं को चोट पहुंचाई जा रही है।

सैफ अली खान की 'तांडव'
सैफ अली खान की ‘तांडव’

Laal Kaptaan Movie Review : क्या सैफ अली खान के हिस्से में जुड़ने जा रही है एक और असफलता ?

तांडव का किया जाएगा बहिष्कार –

उन्होंने ट्विटर के माध्यम से लिखा कि आखिरकार क्यों हर बार फिल्मों और वेब सीरीज में हिन्दू देवी देवताओं को अपमानित करने का काम किया जाता है। ताजा उदाहरण नई वेब सीरीज ‘तांडव’ है। सैफ अली खान एक बार फिर ऐसी फिल्म या सीरीज का हिस्सा है, जो हिन्दू भावनाओं को ठेस पहुंचाता है। साथ ही उन्होंने कहा कि डायरेक्टर अली अब्बास जफर को सीरीज से भगवान शिव का मजाक बनाने वाला हिस्सा हटाना होगा। एक्टर जीशान अयूब को माफी मांगनी होगी। जब तक जरूरी बदलाव नहीं होते तब तक तांडव का बहिष्कार किया जाएगा।

चार साल के हुए सैफ-करीना के क्यूट से साहबजादे तैमूर

तांडव से निराशा ही लगेगी हाथ –

डायरेक्टर अली अब्बास जफर को पता है कि ऑडियंस को क्या मसाला चाहिए। हालांकि इसी चतुराई में वह कहानी पर उतनी पकड़ नहीं बना पाए हैं जैसे की उम्मीद की जा रही थी। जब कहानी शुरू होती है तो आपको लगता है कि इसमें कई तरह की राजनीतिक पैंतरेबाजी देखने को मिलेगी लेकिन आपको निराशा ही हाथ लगेगी। अगर आपने अमेरिकन सीरीज ‘हाउस ऑफ कार्ड्स’ देखी है और वैसे ही पॉलिटिकल ड्रामा की उम्मीद कर रहे हैं तो आपको निराशा ही हाथ लगने वाली है। सैफ अली खान पूरी सीरीज में स्टाइलिश लगे हैं और उनकी परफॉर्मेंस भी काबिले तारीफ है लेकिन एविएटर सनग्लासेज में बार-बार उनका स्लोमोशन में दिखाई देना आपको अखरने लगेगा। राजनीति के बारे में भाषणबाजी जरूरत से ज्यादा की गई है और डायलॉग एक वक्त के बाद प्रभावहीन लगने लगते हैं।

सैफ अली खान की 'तांडव'
सैफ अली खान की ‘तांडव’

OTT कंटेंट भी हो नियंत्रित –

वहीं बीजेपी सांसद मनोज कोटक ने इस मामले को लेकर सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को पत्र लिखा है और वेबसीरीज पर जल्द एक्शन लेने की मांग की है। कोटक के मुताबिक तांडव वेबसीरीज में हिंदू विरोधी कंटेंट शामिल है और हिंदू भावनाओं को आहत करने की कोशिश की गई है। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, ‘OTT प्लेटफॉर्म को सेंसरशिप जैसी कोई बाध्यता नहीं है। लेकिन इस वजह से लगातार हिंदू भावनाओं को आहत किया जा रहा है। मैं इसकी निंदा करता हूं, मैंने इस संबंध में केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से बात की है। मैंने उनसे अपील की है कि भारत की अखंडता को बचाए रखने के लिए OTT कंटेंट को भी नियंत्रित करने की व्यवस्था बनाई जाए, हम लोग काफी तेजी से इस दिशा में आगे बढ़ रहे हैं।’

Agra Lucknow Expressway: कोहरे की वजह से बेकाबू बस पलटी, Driver की मौके पर मौत

कन्हैया कुमार से जोड़कर देखा जा रहा –

सबसे ज्यादा जीशान आयूब के एक वीडियो को शेयर किया जा रहा है जिसमें वे भगवान शिव बनकर कुछ एक्टिंग कर रहे हैं। उस वीडियो में जीशान कैंपस के छात्रों की आजादी की बात कर रहे हैं। वे कह रहे हैं कि इन छात्रों को देश में रहकर आजादी चाहिए, देश से आजादी नहीं चाहिए। हालांकी निर्माता ये जरूर कह रहे हैं कि ये सीरीज सत्य घटनाओं से प्रेरित नहीं है, लेकिन इस वायरल सीन को जेएनयू के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार से जोड़कर देखा जा रहा है।

Leave a comment

Your email address will not be published.