अब बांग्लादेश में हुआ हिंदू गांव पर हमला, घरों और मंदिरों में तोड़फोड़

हमारे मंदिर क्यों तहस-नहस किया जा रहा है एक बांग्लादेशी हिंदू

नई दिल्ली: हमारी क्या गलती है, हम हिंसा से क्यों जुझना पड़ रहा है। हमारे मंदिरों सहित हमें क्यों तहस-नहस किया जा रहा है। जी हां, ये अवाजें उठ रही हैं बांग्लादेश(Bangladesh) में। जहां हिंदू(Hindu) समुदाय के लोगों को निशाना बनाने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि कट्टरपंथियों का एक समुह हिंदुओं के एक गांव पर हमला किया। गांव में जमकर लुटपात और किमती समानों को निशाना बनाया गया।

हमारी क्या गलती है
हमारी क्या गलती है

 

Mahashivratri 2021: पाकिस्तान में भगवान शिव का प्राचीन मंदिर जहाँ गिरा था शिवनेत्र

हमारी क्या गलती है?

स्थानीयें खबरों के मुताबिक कहा जा रहा है कि यह हमला एक कथित पोस्ट को लेकर किया गया था। जिसमें कट्टरपंथी हिफाजत-ए-इस्लाम के नेता को लेकर आलोचना की गई थी। कट्टरपंथियों के हमले की आंशका में हिंदू समुदाय के लोग जान बचाने के लिए पहले ही गांव छोड़कर चले गये थे। ये पुरा मामला उत्तरी बांग्लादेश के सुनामगंज का है। वहीं इस घटना के विरोध में हिफाजत के नेता मौलाना मामूनूल हक को गिरफ्तार करने की मांग की जा रही है।

फेसबुक पर आलोचना के कारण हिंदूओं के घरों में लूटपाट

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस कट्टरपंथी नेता के सर्मथकों ने हिंदूओं के घरों में लूटपाट औप तोड़-फोड़ की। पुलिस अधिकारी ने आगे बताया कि हिंदू समुदाय के एक व्यक्ति ने हिफाजत के नेता के खिलाफ फेसबुक पर आलोचना की थी। इस बात से नाराज मामूनूल हक के समर्थकों ने मार्च किया था। यह आरोप लगाया कि इससे इस्लामिक भावनाऐं आहत हुई है।

इन दिनों बांग्लादेश में हिन्दुओं और उनके परिवारों पर बहुत हमले हो रहे हैं। फेसबुक पर कुछ बोला तो उसका जवाब वहां के मुस्लिमों ने हिन्दू परिवारों पर हमला किया साथ ही उनके मंदिर में तोड़फोड़ के साथ उनके घर के समान लूट रहे हैं।

Sakshi Maharaj | योगी जी युग पुरुष हैं |

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *